ताज़ा खबर
 

MCC ने विकेटकीपरों की चोटों को कम करने के लिए नियम में संशोधन किया

विकेटकीपरों को मैच के दौरान लगने वाली गंभीर चोटों से बचाने के लिये मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) ने ‘टीथर वाली बेल’ के इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है जिससे स्टंप उखड़ने के समय बेल की दूरी सीमित हो जायेगी।
Author लंदन | April 13, 2017 21:09 pm
विकेटकीपरों को मैच के दौरान लगने वाली गंभीर चोटों से बचाने के लिये मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) ने ‘टीथर वाली बेल’ के इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है

विकेटकीपरों को मैच के दौरान लगने वाली गंभीर चोटों से बचाने के लिये मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) ने ‘टीथर वाली बेल’ के इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है जिससे स्टंप उखड़ने के समय बेल की दूरी सीमित हो जायेगी। मार्क बाउचर को 2012 में दक्षिण अफ्रीका के इंग्लैंड दौरे पर शुरूआती मैच के दौरान बायीं आंख में गंभीर चोट लगी थी जब बेल उखड़कर उनकी आंख में लग गयी थी। इसके बाद उन्हें सर्जरी करानी पड़ी थी और आखिर में संन्यास लेना पड़ा था। भारत के पूर्व विकेटकीपर सबा करीम का करियर भी इसी तरह की चोट के कारण खत्म हो गया था। उन्हें 2000 में ढाका में बांग्लादेश के खिलाफ एशिया कप मुकाबले में इसी तरह की चोट लगी थी। अनिल कुंबले की गेंद से बेल उखड़कर बल्लेबाज के जूते से लगकर करीम की दायीं आंख में लग गयी थी।

पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की भी दायीं आंख में पिछले साल जिम्बाब्वे के खिलाफ अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान बड़ा शाट खेलने की कोशिश में बेल लग गयी थी। इन घटनाओं का संज्ञान लेते हुए एमसीसी ने नियम 8.3 में बदलाव करने का फैसला किया जिसके लिये दक्षिण अफ्रीका और ब्रिटेन की दो कंपनियों ने अपने डिजाइन सौंपे हैं जिसमें टीथर लीग बेल होंगी लेकिन इससे बेल गिरने की तेजी और रफ्तार में कोई बदलाव नहीं होगा। एमसीसी के नियम संबंधित मैनेजर फ्रेजर स्टेवार्ट ने ईएसपीएनक्रिकइंफो से कहा, ‘‘अगर इससे किसी खिलाड़ी की आंख की रोशनी जाने से बचती है तो इस पर विचार करना महत्वपूर्ण था।

उन्होंने कहा, ‘‘कंपनियां अब भी इस पर काम कर रही हैं इसलिये काम भी चल रहा है लेकिन एमसीसी ने नियमों में इस तरह के उपकरण :टीथर वाली बेल: को अनुमति दे दी है। इसके बाद इसके इस्तेमाल की अनुमति देना संचालन संस्था पर निर्भर करता है। ’’
नियम 8.3.4 के अनुसार अब, ‘‘खिलाड़ियों की सुरक्षा के लिये ऐसे उपकरण को रखने की अनुमति दी जाती है जिससे स्टंप से बेल गिरने के समय इसकी दूरी सीमित हो जायेगी लेकिन मैच के लिये इसकी मंजूरी संचालन संस्था और मैदानी अधिकारियों पर निर्भर होगा। ’’

IPL इतिहास के 5 सबसे सफल कप्तान; ये भारतीय खिलाड़ी है सबसे ऊपर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
Pro Kabaddi League 2017 - Points Table
No.
Team
P
W
L
D
Pts

Pro Kabaddi League 2017 - Schedule
Oct 18, 201721:00 IST
Shree Shiv Chhatrapati Sports Complex, Pune
38
Zone A - Match 130
FT
15
Puneri Paltan beat Jaipur Pink Panthers (38-15)
Oct 20, 201720:00 IST
Shree Shiv Chhatrapati Sports Complex, Pune
VS
Zone B - Match 131
Oct 20, 201721:00 IST
Shree Shiv Chhatrapati Sports Complex, Pune
VS
Zone A - Match 132

सबरंग