ताज़ा खबर
 

बेहद शांत रहने वाले राहुल द्रविड़ ने किसलिए पटक दी थी ड्रेसिंग रूम में कुर्सी

किस्सा साल 2006 के आसपास का है। द्रविड़ की पत्नी विजेता बताती हैं कि वह उस दिन...

टीम इंडिया के ‘सीधे’ खिलाड़ी का जिक्र हो, तो सबसे पहले राहुल द्रविड़ याद आते हैं। भारतीय क्रिकेट टीम की दीवार। स्वभाव में बेहद शांत, सौम्य और सरल। मिस्टर डिपेंडेबल की यही बातें उन्हें बाकी खिलाड़ियों से जुदा बनाती हैं। लेकिन एक वह भी अपना आपा खो बैठे थे। गुस्से का पारा इसी से समझिए कि उन्होंने ड्रेसिंग रूम में कुर्सी पटक दी थी।

किस्सा साल 2006 के आसपास का है। द्रविड़ की पत्नी विजेता बताती हैं कि वह उस दिन टेस्ट मैच खेल कर लौटे थे। बोले- मैं आज गुस्सा गया। इतना कि आपा खो बैठा। ऐसा नहीं करना चाहिए था। उन्होंने इसके अलावा कुछ नहीं कहा।

कुछ महीनों बाद वीरेंद्र सहवाग से बात हुई। उन्होंने मुझे उस वाकये से जुड़ी असल बात बताई। कहा- द्रविड़ ने गुस्से में ड्रेसिंग रूम की कुर्सी पटक दी थी। कारण था मुंबई में इंग्लैंड से मिली हार। कुर्सी इसलिए नहीं फेंकी कि हम हारे थे, बल्कि इसलिए पटकी थी कि हम बेहद बुरी तरह हारे थे।

दरअसल, 2006 में इंग्लैंड टीम भारत के टूर पर आई थी। तीन टेस्ट मैच खेले जाने थे। राहुल द्रविड़ टीम इंडिया के कप्तान थे और एंड्रयू फ्लिंटॉफ इंग्लिश टीम की कमान संभाल रहे थे। भारत तब 212 रनों से हारा था। द्वविड़ तो यही बात नागवार गुजरी थी, जिसके चलते उन्होंने ड्रेसिंग रूम में कुर्सी पटक दी थी। द्वविड़ ने उस पारी में सिर्फ नौ रन बनाए थे। यही कारण था कि 3 मैचों की सीरिज 1-1 से ड्रॉ हो गई। वह अपनी परफॉर्मेंस से काफी निराश थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग
Indian Super League 2017 Points Table

Indian Super League 2017 Schedule