ताज़ा खबर
 

जीत के बाद बोले अश्विनः बुलंद हैं टीम इंडिया के हौंसले और मेरे पास विकेट लेने का लाइसेंस है

पहले टी-20 में शानदार जीत के बाद टीम इंडिया के हौसले बुलंद हैं और उसे किसी भी तरह से दबाव में नहीं डाला जा सकता।
Author January 29, 2016 00:21 am
अश्विन ने कहा, शानदार जीत के बाद टीम इंडिया के हौसले बुलंद हैं और उसे किसी भी तरह से दबाव में नहीं डाला जा सकता।

पहले टी-20 में शानदार जीत के बाद टीम इंडिया के हौसले बुलंद हैं और उसे किसी भी तरह से दबाव में नहीं डाला जा सकता। दूसरे टी 20 से पहले टीम इंडिया के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने कहा कि वह उन पर हमला करने की ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों की रणनीति से विचलित नहीं हैं चूंकि उनके पास इसका सामना करने और विकेट लेने की क्षमता है।

अश्विन ने कहा ,‘‘यह बल्लेबाजों का टूर्नामेंट रहा है लिहाजा आपको अपने बेसिक्स पर अडिग रहना होता है. जब मैंने वापसी की तब मैं आत्मविश्वास से ओतप्रोत था और मैने अपनी रणनीति बना रखी थी. मेरे पास सर्कल के बाहर भी एक अतिरिक्त फील्डर था जिसका बड़ा फायदा मिला।’’

पहले टी20 में एरोन फिंच द्वारा उन्हें निशाना बनाए जाने के बारे में पूछने पर अश्विन ने कहा ,‘‘यदि उनके पास लाइसेंस है तो मेरे पास भी विकेट लेने का लाइसेंस है. ऐसा नहीं है कि उनके ऑफ स्पिनर पर रन नहीं बने हैं. उसने 80 रन दिए और इस सीरीज में ऐसा ही होता आया है। हर किसी की गेंद पर रन पड़े हैं।’’ अश्विन ने तीन मैचों के ब्रेक के बाद वापसी की और आशीष नेहरा के साथ गेंदबाजी का आगाज किया। इसके बाद उन्होंने रविंद्र जडेजा के साथ गेंदबाजी की और 28 रन देकर दो विकेट लिए.

उन्होंने कहा ,‘‘मैंने पहले ओवर में अच्छी गेंदबाजी की. मेरी गेंदबाजी में कोई खराबी नहीं थी हालांकि काफी रन दिए. वनडे सीरीज में भी नाथन लियोन और केन रिचर्डसन ने भी 70 या ज्यादा रन दिए लिहाजा यह विकेट लेने और अच्छी गेंदबाजी करने का आत्मविश्वास बनाए रखने की बात है।’’

यह पूछने पर कि क्या वनडे सीरीज में प्लेइंग इलेवन में नहीं चुने जाने पर वह निराश थे, अश्विन ने कहा कि वह गलत फैसला नहीं था. उन्होंने कहा ,‘‘मेरे बाहर होने का कारण था कि मैं भारत को जीत नहीं दिला पा रहा था. यदि भारत जीतता तो मैं टीम में रहता. मैने काफी रन दिए जिससे मुझे बाहर रहना पड़ा और यह सही भी है क्योंकि आपको सर्वश्रेष्ठ टीम उतारनी होती है . मैं और मेहनत करके बेहतर प्रदर्शन की कोशिश कर सकता हूं।’’

वनडे सीरीज के शुरूआती चार मैच हारने के बाद भारत ने सिडनी में आखिरी वनडे और फिर एडीलेड में पहला टी20 मैच जीता. लगातार मिली दो जीत से टीम पहली बार ऑस्ट्रेलिया पर दबाव बनाने में कामयाब रही है।

अश्विन ने कहा ,‘‘हम सही स्कोर का अनुमान नहीं लगा सके. पहले 300 या 260 रन भी विजयी स्कोर होता था जब हम 2011-12 में यहां आए थे. हमें लगा कि 310-320 रन बनाकर हमने अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन 330 रन बनाने चाहिए थे बल्कि कैनबरा और सिडनी में तो मुझे लगा कि हम 350 रन भी बना सकते थे।’’ उन्होंने कहा ,‘‘पिछली बार जब दक्षिण अफ्रीका टीम यहां आई थी तब उसने 310 और 320 रन आसानी से बनाए थे हमसे सही स्कोर का आकलन करने में चूक हुई।’’

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग
Indian Super League 2017 Points Table

Indian Super League 2017 Schedule