January 19, 2017

ताज़ा खबर

 

पूर्व ICC चीफ एहसान मणि की पाकिस्‍तान को सलाह- भारत को न मिलने दें किसी टूर्नामेंट की मेजबानी

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के पूर्व अध्यक्ष एहसान मनी ने पाकिस्तान पर ‘भड़काउच्च्’ बयान देने के लिये बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर की निंदा की है..

Author नई दिल्ली | October 5, 2016 17:06 pm
अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के पूर्व अध्यक्ष एहसान मणि

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के पूर्व अध्यक्ष एहसान मनी ने पाकिस्तान पर ‘भड़काउच्च्’ बयान देने के लिये बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर की निंदा की है और पीसीबी से यह दबाव बनाने के लिये कहा है कि भारत को आईसीसी टूर्नामेंटों की मेजबानी नहीं मिल सके ।
मनी ने कल रात कहा कि पाकिस्तानी क्रिकेट अधिकारियों को अगले सप्ताह केपटाउन में आईसीसी कार्यकारी बोर्ड की बैठक में कड़ा रूख अख्तियार करना चाहिये । उन्होंने कहा ,‘‘ भारतीय क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष ने भड़काऊ और अपरिपक्व बयान देकर पाकिस्तान को आईसीसी बैठक में अपना पक्ष प्रभावी ढंग से रखने का मौका दे दिया है ।’मनी ने कहा कि पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल को मांग करनी चाहिये कि आईसीसी पाकिस्तान के खिलाफ बयानबाजी को लेकर बीसीसीआई अध्यक्ष से सफाई मांगे ।


उन्होंने कहा ,‘‘ अनुराग ठाकुर राजनेता है और सत्तारूढ दल के सांसद भी हैं । आईसीसी को उनसे पूछना चाहिये कि पाकिस्तान या अन्य क्रिकेट मसलों पर बयान उन्होंने किस हैसियत से दिये हैं । आईसीसी के संविधान में साफ तौर पर लिखा है कि उसका कोई अधिकारी या सदस्य देश का अधिकारी ऐसा बयान नहीं देगा जिससे खेल की साख को ठेस पहुंचे और ठाकुर के बयानों ने यही किया है ।’

मनी ने कहा कि वह पिछले दो साल से पाकिस्तान बोर्ड को सलाह दे रहे हैं कि आईसीसी टूर्नामेंटों में ग्रुप चरण में भारत के खिलाफ नहीं खेले ।
उन्होंने कहा ,‘‘ अब भारत आईसीसी टूर्नामेंटों के ग्रुप चरण में हमारे साथ नहीं खेलने की बात कह रहा है । सच तो यह है कि भारत पाकिस्तान मैचों से आईसीसी को भारी कमाई होती है और बिग थ्री संचालन फार्मूले के तहत भारत को इसका बड़ा हिस्सा मिलता है । इसके बावजूद वे हमारे साथ द्विपक्षीय श्रृंखला नहीं खेलना चाहते ।’

मनी ने कहा कि पाकिस्तानी क्रिकेट अधिकारी बरसों से भारत को खुश रखने की नीति पर अमल कर रहे हैं क्योंकि वे द्विपक्षीय क्रिकेट की बहाली चाहते हैं । उन्होंने कहा ,‘‘ लेकिन अब यह साफ है कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड की तरफ से काफी नकारात्मकता है और हालात भी तनावपूर्ण है । पाकिस्तान के लिये आईसीसी बैठक में अपना पक्ष रखने का यह सही मौका है ।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 5, 2016 5:04 pm

सबरंग