ताज़ा खबर
 

शोएब अख्तर की गेंदबाजी से तब क्या खौफ खा गए थे सचिन तेंदुलकर? सुनिए रावलपिंडी एक्सप्रेस का दावा

रावलपिंडी एक्सप्रेस की धारदार गेंदों जैसी कॉन्ट्रोवर्शियल उनकी ऑटोबायोग्राफी भी है। उसमें उन्होंने कुछ साल पहले...

क्रिकेट में भारत-पाकिस्तान का मैच जंग से कम नहीं होता। ऐसा ही कुछ फॉर्मर क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर-शोएब अख्तर के आमने-सामने होने पर होता था। फैंस में दोनों की राइवलरी आज तक मशहूर है। कभी कहा गया कि सचिन की धाकड़ बल्लेबाजी से अख्तर खौफ खाते थे। वहीं, एक बार अख्तर ने ही खुलासा कर दिया था कि सचिन उनसे डर गए थे। अख्तर दुनिया के तेज गेंदबाज रहे हैं। उनकी धारदार गेंदों जैसी कॉन्ट्रोवर्शियल उनकी ऑटोबायोग्राफी भी है। नाम- ‘कंट्रोवर्शियल योर्स’ (Controversially Yours) है। उसमें उन्होंने कुछ साल पहले खुलासा किया था कि सचिन उनसे डर गए थे। वह उनके लिए न तो भगवान हैं और न ही महान।

रावलपिंडी एक्सप्रेस ने इस बारे में एक टीवी शो में कहा था कि उन्हें लगा कि तब सचिन की टेनिस एलबो खराब थी। हुक-पुल करना मुश्किल था। शॉर्ट पिच गेंद खेलने में तब उन्हें दिक्कत हो रही थी। यह बात हमें पता थी। ऐसे में उन्होंने उन्हें डरा कर आउट करने की बात सूझी। सचिन विकेट देकर जाने वालों में से नहीं थे। लेकिन उस दिन वह खुद ही चले गए थे। इस पर उन्हें लगा कि वह डर गए थे। उन्हें तकलीफ हो रही थी। शोएब के मुताबिक, उन्होंने अगले मैच में सचिन के सिर पर गेंद मार दी थी। उस सीरीज में भी मास्टर ब्लास्टर से रन नहीं बने। दुनिया में हर प्लेयर का बुरा दिन होता है। वह आपके भगवान हैं। मेरे नहीं है। भगवान को सिर पर गेंद लगती है, तो बुरा मानने वाली बात नहीं है। क्रिकेट है, यहां सब कुछ होता है। मैंने सच कहा, तो आपको बुरा लग गया।

पसंदीदा क्रिकेटर के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने सुनील गावस्कर को भारत का सबसे बड़ा बल्लेबाज बताया। कहा मैं सचिन को नहीं पसंद करता। मैं सम्मान करता हूं उनका। वह महान हैं, लेकिन मेरे पसंदीदा सनी भाई हैं। जब वह खेलते थे, तब खौफनाक किस्म के गेंदबाज होते थे। पिचों के बारे में पता नहीं होता था। उन सब का सामना करना और बिना हेल्टेम के मैच जिताना सुनील की महानता थी।

शोएब की लिखी बातों से बेशक हिंदुस्तान के क्रिकेट फैंस आहत हुए थे। इस पर सवाल पूछा जा रहा था, तभी बीच में वह बोले- क्या चाहते हैं कि मैं माफी मांगूं। सच बोलने के लिए माफी मांगूं? बीसीसीआई भी कौन होती है, मुझसे कहने वाली कि माफी मांगें। न मैं माफी मांगूंगा और न ही स्पष्टीकरण दूंगा। मैंने जो महसूस किया, वह लिखा है। मैंने उन मैचों की बात की है। उस एक सीरीज की बात की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग
Indian Super League 2017 Points Table

Indian Super League 2017 Schedule