ताज़ा खबर
 

Pro Kabaddi Final 2017: जानिए कौन-सी टीम पड़ सकती है किस पर भारी

Pro Kabaddi 2017 Final Score: प्रदीप ने बंगाल के खिलाफ तीन बोनस अंक लिए जबकि 20 टच अंक हासिल किए, जिसके दम पर टीम फाइनल तक पहुंच सकी है।
Pro Kabaddi 2017 Final: बंगाल के लिए प्रदीप नरवाल परेशानी खड़ी कर सकते हैं।

प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के क्वालीफायर-2 मुकाबले में बंगाल वॉरियर्स को 3 अंकों से हराकर पटना पाइरेट्स ने फाइनल में जगह बना ली है, जहां उसका सामना गुजरात फॉर्च्यून जायंट्स से 28 अक्टूबर को होगा। ये वो ऐतिहासिक दिन है, जिसके लिए तीन महीनों तक 12 टीमें 137 मुकाबलों में भिड़ चुकी हैं। पटना के कप्तान एक ओर प्रदीप नरवाल हैं, जिनके दम पर टीम इस मुकाम तक पहुंच सकी है। आइए, दोनों टीमों के मजबूत पक्ष पर एक नजर डालते हैं।

गुजरात की बात करें तो रेडर्स में सुकेश हेगड़े, अमित राठी, चंद्रन रंजीत और महेंद्र राजपूत, पवन शेरावत, राकेश नरवाल, सचिन, सुल्तान डांगे टीम को दम देते हैं। वहीं दूसरी ओर डिफेंडर्स की बात करें तो अमित और सुनील कुमार राइट कवर, जबकि फजल अत्राचली और प्रवेश भैंसवाल लेफ्ट कवर की जिम्मेदारी बखूबी संभाल रहे हैं। ऑलराउंडर्स में महिपाल नरवाल, रोहित गूलिया मौजूद हैं।

वहीं बात अगर पटना पाइरेट्स की करें तो प्रदीप नरवाल, मोनू गोयत और विकाश जागलान मौजूद हैं। वहीं रेडर्स में जयदीप, मनीष, विशाल माने, सचिन शिंघाड़े शामिल हैं। अरविंद कुमार, जवाहर डागर, मोहम्मद मग्शूदलू और प्रवीण बीरवाल ऑलराउंडर्स की बखूबी भूमिका निभा रहे हैं।

सीजन-5 के दूसरे क्वालीफायर में गुरुवार को पटना पाइरेट्स के हाथों मात खाकर फाइनल में जाने से चूकने वाली बंगाल वॉरियर्स के कप्तान सुरजीत ने कहा है कि पटना के कप्तान प्रदीप नरवाल को किसी भी हालत में रोका नहीं जा सकता। उनके खिलाफ सारी तैयारियां धरी की धरी रह जाती हैं।

प्रदीप ने बंगाल के खिलाफ 23 अंक लेकर पटना को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। पटना ने बंगाल को 47-44 से मात दी। मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में सुरजीत ने कहा, “प्रदीप के खिलाफ कितनी भी तैयारी कर लें, वो किसी तरह इधर-उधर से अंक ले जाते हैं। उन्हें किसी भी हालत में रोका नहीं जा सकता। वह शानदार खिलाड़ी हैं। हमें अपनी गलतियों से हार मिली। अंतिम पलों में हमने वापसी की लेकिन दुर्भाग्यवश हम जीत हासिल नहीं कर सके।” बंगाल अगर इस मैच को जीतती तो वह पहली बार पीकेएल के फाइनल में पहुंचती, लेकिन पटना ने ऐसा नहीं होने दिया। पटना लगातार तीसरी बार फाइनल में पहुंची है। ”

बता दें कि प्रदीप ने बंगाल के खिलाफ तीन बोनस अंक लिए जबकि 20 टच अंक हासिल किए। शुरुआत से पिछड़ने वाली बंगाल ने अंतिम पांच मिनट में बेहतरीन वापसी करते हुए जीत की उम्मीद जगाई थी, लेकिन पटना किसी तरह अंकों के अंतर को बनाए रखने में सफल रही।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
Indian Super League 2017 Points Table

Indian Super League 2017 Schedule