ताज़ा खबर
 

IND vs ENG: बल्लेबाजी तकनीक पर जिमी एंडरसन के बयान को विराट कोहली ने नहीं दी तवज्जो

एंडरसन ने कहा था कि कोहली की तकनीक की खामियां नजर नहीं आ रही क्योंकि भारत की पिचों पर उछाल और मूवमेंट कम है।
Author मुंबई | December 12, 2016 15:34 pm
मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले जा रहे चौथे टैस्ट मैच के तीसरे दिन इंग्लैंड के खिलाफ बल्लेबाजी के दौरान शॉट खेलते भारतीय कप्तान विराट कोहली। (REUTERS/Danish Siddiqui/10 Dec, 2016)

कप्तान के रूप में विराट कोहली की परिपक्वता सोमवार (12 दिसंबर) को सामने आई जब उन्होंने अपनी तकनीक को लेकर जिमी एंडरसन के बयान को अधिक तूल नहीं दिया और इंग्लैंड के इस अनुभवी तेज गेंदबाज को समय के साथ आगे बढ़ने की सलाह देते हुए कहा कि वह ‘व्यंग्यात्मक माइंडगेम’ में विश्वास नहीं रखते। कोहली ने कहा कि रविचंद्रन अश्विन ने भी एंडरसन को ‘हार स्वीकार करने’ की अहमियत बताई थी। एंडरसन ने चौथे टेस्ट के चौथे दिन का खेल खत्म होने के बाद कहा था कि कोहली की तकनीक की खामियां नजर नहीं आ रही क्योंकि भारत की पिचों पर उछाल और मूवमेंट कम है। भारतीय कप्तान ने अब तक श्रृंखला के चार टेस्ट में 640 रन जुटाए हैं। कोहली से मैच के बाद जब इंग्लैंड टीम के प्रदर्शन में खामी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘मैं कोई नहीं हूं या इस स्थिति में नहीं हूं कि किसी और की तकनीक या खामी पर सवाल उठाऊं। उन्हें यह खुद समझना होगा और इस पर काम करना होगा। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर के रूप में यह उनकी जिम्मेदारी है। इसलिए मैं यहां बैठकर व्यंग्यात्मक माइंडगेम नहीं खेलना चाहता। मैं अच्छे क्रिकेट पर ध्यान देना चाहता हूं और हमने यही किया।’

एंडरसन जब बल्लेबाजी के लिए आए तो अश्विन को उनसे बात करते देखा गया जिसके बाद कोहली और अंपायरों ने हस्तक्षेप किया। घटना के बारे में पूछने पर कोहली ने कहा, ‘यह पहली बार है जब मैंने उस समय स्थिति को शांत कराने की कोशिश की जब वह (एंडरसन) इससे जुड़ा था। कल (रविवार, 11 दिसंबर) प्रेस कांफ्रेंस में उसने जो कहा उसने अश्विन खुश नहीं था। अश्विन ने मैदान पर मुझे यह बताया, मुझे इसके बारे में कोई जानकारी नहीं थी। मैं इसे लेकर हंस रहा था लेकिन अश्विन इससे प्रभावित नहीं था।‘ उन्होंने कहा, ‘वह (अश्विन) उसे बताना चाहता था, अपशब्दों का इस्तेमाल किए बगैर, मुझे लगता है कि उसने कहा कि उसने जो कहा उससे वह निराश है और हार स्वीकार करना महत्वपूर्ण है और ऐसा ही कुछ उसने कहा होगा। आपको पता है कि अश्विन कैसा है, वह अपशब्दों का इस्तेमाल किए बगैर आपको शर्मसार कर सकता है। यही हुआ। बाद में मैंने जेम्स से कहा कि ऐसी चीजें होती है और यह आगे बढ़ने का समय है।’

विरोधी कप्तान एलिस्टेयर कुक ने कहा कि इस मामले को काफी बढ़ा चढ़ाकर पेश किया गया। उन्होंने कहा, ‘अंत में यह थोड़ा खटास भरा रहा। दोनों टीमों की भावनाओं को देखते हुए निराशाजनक अंत। यह जिमी ने कल (रविवार, 11 दिसंबर) जो बोला उसके संदर्भ में था जिसे बढ़ा चढ़ाकर पेश किया गया जो यहां होता है।’ कुक ने कहा, ‘वह सिर्फ एक तथ्य बता रहा था जो अगर आप विराट से पूछो तो काफी सही है। लेकिन हां, यह बेशक उनके कप्तान को छेड़ने की तरह था जो मुझे लगता है कि गैरजरूरी था।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.