ताज़ा खबर
 

उत्तर प्रदेश ने सैयद मुश्ताक अली ट्राफी जीती

सलामी बल्लेबाज प्रशांत गुप्ता और कप्तान सुरेश रैना की उम्दा पारियों के बाद अंकित राजपूत और कुलदीप यादव की धारदार गेंदबाजी से उत्तर प्रदेश ने बुधवार को एकतरफा फाइनल में दो बार के चैंपियन बड़ौदा को 38 रन से हराकर लगातार नौवीं जीत के साथ पहली बार सैयद मुश्ताक अली टी20 क्रिकेट टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया
Author मुंबई | January 21, 2016 02:00 am

सलामी बल्लेबाज प्रशांत गुप्ता और कप्तान सुरेश रैना की उम्दा पारियों के बाद अंकित राजपूत और कुलदीप यादव की धारदार गेंदबाजी से उत्तर प्रदेश ने बुधवार को एकतरफा फाइनल में दो बार के चैंपियन बड़ौदा को 38 रन से हराकर लगातार नौवीं जीत के साथ पहली बार सैयद मुश्ताक अली टी20 क्रिकेट टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया। टूर्नामेंट में अजेय रही उत्तर प्रदेश की टीम ने सलामी बल्लेबाज प्रशांत गुप्ता (49) और कप्तान सुरेश रैना (नाटआउट 47) की उम्दा पारियों की मदद से निर्धारित 20 ओवर में सात विकेट पर 163 रन बनाए और फिर अंकित राजपूत (30 रन पर तीन विकेट), कुलदीप (12 रन पर दो विकेट) और अमित मिश्रा (33 रन पर दो विकेट) की अच्छी गेंदबाजी से बड़ौदा को सात विकेट पर 125 रन के स्कोर पर रोक दिया।

बड़ौदा के शीर्ष सात बल्लेबाज दोहरे अंक में पहुंचे लेकिन कोई बड़ी पारी नहीं खेल पाया। टीम की ओर से शोएब ताई ने सर्वाधिक 26 रन बनाए और नाटआउट रहे। लक्ष्य का पीछा करने उतरे बड़ौदा की शुरुआत खराब रही। टीम ने आठवें ओवर में 54 रन के स्कोर तक सलामी बल्लेबाजों केदार देवधर (19) और मरुनाल देवधर (14) व हार्दिक पांड्या (13) के विकेट गंवा दिए। शुरुआती झटकों से टीम दबाव में आ गई जिससे रन गति पर असर पड़ा। दीपक हुड्डा भी 15 गेंद में 15 रन बनाने के बाद कुलदीप यादव की गेंद पर पवेलियन लौटे जबकि अमित मिश्रा ने यूसुफ पठान को आउट करके बड़ौदा का स्कोर पांच विकेट पर 84 रन किया। यूसुफ ने 27 गेंद का सामना करते हुए सिर्फ 14 रन बनाए।

बड़ौदा को जीत के लिए अंतिम चार ओवर में 71 रन की दरकार थी और यह लक्ष्य उसके लिए पहाड़ जैसा साबित हुआ। इससे पहले उत्तर प्रदेश को समर्थ सिंह ने एक चौके और दो छक्कों की मदद से 13 गेंद में 19 रन जोड़कर तेज शुरुआत दिलाई लेकिन वह हार्दिक पांड्या (26 रन पर एक विकेट) की आफ साइड से बाहर जाती गेंद को विकेटों पर खेल गए। प्रशांत ने इसके बाद कप्तान रैना के साथ दूसरे विकेट के लिए 60 रन जोड़कर उत्तर प्रदेश को मजबूत स्थिति में पहुंचाया। प्रशांत हालांकि पांच रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब मुनाफ पटेल की गेंद पर पीनल शाह ने उनका कैच टपका दिया।

प्रशांत और रैना ने स्ट्राइक रोटेट करने को तरजीह दी जबकि खराब गेंदों को सबक भी सिखाया। प्रशांत ने पांड्या पर दो चौके जड़े जबकि रैना ने शोएब ताई (31 रन पर एक विकेट) पर छक्का जड़ा। प्रशांत ने भी 12वें ओवर की पहली गेंद पर भार्गव भट (13 रन पर दो विकेट) पर मिडविकेट के ऊपर से छक्का जड़ा लेकिन अगली गेंद पर एलबीडब्लू आउट हो गए। उन्होंने 41 गेंद की अपनी पारी में पांच चौके और एक छक्का मारा। भट ने एक गेंद बाद एकलव्य द्विवेदी (0) को भी एलबीडब्लू आउट किया।

पीयूष चावला (13 गेंद में 17 रन) एक चौके और छक्के के साथ अपने तेवर दिखाए लेकिन ताई की गेंद पर एलबीडब्लू हो गए। इसी ओवर में रैना भी भाग्यशाली रहे जब पीनल ने 32 रन के निजी स्कोर पर उन्हें स्टंप करने का मौका गंवा दिया। उमंग शर्मा (12) और अक्षदीप नाथ (4) रन आउट हुए। रैना अंतिम ओवरों में तेजी से रन बटोरने में नाकाम रहे। उन्होंने हालांकि पारी की अंतिम गेंद पर इरफान पठान (44 रन पर एक विकेट) पर छक्का जड़ा। रैना ने 37 गेंद की अपनी पारी में दो चौके और दो छक्के मारे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.