ताज़ा खबर
 

ऋषभ पंत ऑस्ट्रेलिया दौर के लिए ए टीम में नहीं चुने जाने से थे आहत

ऋषभ ने 146 रन की पारी से रणजी सत्र की शुरुआत की और फिर 326 गेंदों पर 308 रन की विशाल पारी खेली।
Author नई दिल्ली | October 16, 2016 21:50 pm
ऋषभ पंत ने रणजी ट्रॉफी में महाराष्‍ट्र के खिलाफ 308 रन की पारी खेली। (Photo:PTI)

अंडर-19 विश्व कप में अच्छा प्रदर्शन और इंडियन प्रीमियर लीग में कुछ अच्छी पारियों से आत्मविश्वास से भरे ऋषभ पंत को ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारत ए टीम में जगह बनाने की उम्मीद थी लेकिन जब उन्हें नजरअंदाज किया गया तो वह आहत हुए लेकिन इससे वह बड़े स्कोर खड़ा करने के लिए भी प्रतिबद्ध बने। ऋषभ ने 146 रन की पारी से रणजी सत्र की शुरुआत की और फिर 326 गेंदों पर 308 रन की विशाल पारी खेली। वह अब सुनील गावस्कर के उस कथन का अनुसरण कर रहे हैं कि ‘अगर दरवाजा खटखटाने से मदद नहीं मिलती तो खोलने के लिए उसे तोड़ो।’

ऋषभ ने कहा, ‘हां मैं इसका खंडन नहीं करता कि ऑस्ट्रेलिया दौर के लिए भारत ए टीम में नहीं चुने जाने से मैं आहत नहीं हुआ था। लेकिन तब मुझे लगा कि मुझे ढेर सारे रन बनाने होंगे। इतने रन बनाओ कि कोई नजरअंदाज ही नहीं कर सके।’ इस सत्र में पंत ने दो मैचों में 454 रन बनाए हैं और उनका औसत 227 है। उन्हें भारतीय क्रिकेट का अगला बड़ा सितारा माना जा रहा है।

पंत से पूछा गया कि तिहरे शतक के लिए उनकी क्या रणनीति थी, उन्होंने कहा, ‘कोई खास नहीं। केवल ढीली गेंदों पर ध्यान देना और उनमें से किसी को भी नहीं छोड़ना।’ लेकिन 300 रन बनाने के लिए आपको अच्छी गेंदों को भी हिट करना होगा, इस पर पंत ने कहा, ‘वीरू भाई ने 294 रन (श्रीलंका के खिलाफ 254 गेंदों पर बनाए गए 293 रन) कितनी गेंदों पर बनाए थे। वीरू भाई और एडम गिलक्रिस्ट मेरे आदर्श हैं। मैं विराट भैया की बल्लेबाजी से भी प्रेरित हूं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 16, 2016 9:49 pm

  1. No Comments.
सबरंग