ताज़ा खबर
 

झारखंड क्रिकेट बोर्ड का मेंबर बनने के लिए 941 लोगों ने दी लिखित परीक्षा, पूछे गए भगवान राम की बहन का नाम जैसे सवाल, 300 लोगों को आए ज़ीरो मार्क्स

45 मिनट की समयावधि वाली परीक्षा में अधिकतर लोग इन सवालों का जवाब नहीं दे पाए। सबसे ज्यादा सही जवाब देने वाले परीक्षार्थी के 17 नंबर आए।
हालांकि गलत जवाब देने पर कोई निगेटिव मार्किंग नहीं रखी गई थी, इसके अलावा एसोसिएशन ने पासिंग मार्क्स की सीमा भी नहीं बताई थी। (Illustration: C R Sasikumar)

भगवान राम की इकलौती बहन का क्या नाम था? ग्रीक एथेना और रोमन मिनर्वा के समान कौन सी भारतीय देवी है? “अगर कोई चीज निश्चित है तो ये कि मैं खुद एक मार्क्‍सवादी नहीं हूँ” ये वाक्य किसने कहा था ? अगर आप इन सवालों के जवाब नहीं जानते हैं तो शायद आप झारखंड स्टेट क्रिकेट एसोसिएशन (JSCA) के मेंबर बनने के लायक नहीं है। हाल ही में JSCA के मेंबरशिप के लिए लिखित परीक्षा कराई गई थी, जिसमें क्रिकेट से नॉन क्रिकेटर्स हिस्सा ले सकते थे। परीक्षा रविवार को कराई गई, जिसमें 941 उम्मीदवारों ने हिस्सा लिया था। इस परीक्षा की खास बात रही कि क्रिकेट मेंबरशिप के इस एग्जाम में “भगवान राम की बहन का नाम” समेत कुल 40 सवाल किए गए। 45 मिनट की समयावधि वाली परीक्षा में अधिकतर लोग इन सवालों का जवाब नहीं दे पाए।

कपिल शर्मा ने अवैध निर्माण गिराने के BMC के आदेश को HC में दी चुनौती

300 लोगों को आए ज़ीरो मार्क्स

इतना ही नहीं परीक्षा में 300 लोग तो खाता ही नहीं खोल पाए और उनके जीरो मार्क्स आए, वहीं करीब 200 लोग दो तिहाई सवालों का ही सही जवाब दे पाए। सबसे ज्यादा सही जवाब देने वाले परीक्षार्थी के 17 नंबर आए। हालांकि गलत जवाब देने पर कोई निगेटिव मार्किंग नहीं रखी गई थी, इसके अलावा एसोसिएशन ने पासिंग मार्क्स की सीमा भी नहीं बताई थी।

Read Also: अनिल कुंबले: क्रिकेट के जंबो के बारे में 7 इंटरेस्टिंग FACTS

उम्मीदवारों को परीक्षा से पहले बताया गया था कि प्रश्न पत्र में 20 सवाल घरेलू और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से होंगे, वहीं क्रिकेट से अलग अंतरराष्ट्रीय व घरेलू खेलों, देश, राज्य और सामान्य ज्ञान से जुड़े 5-5 सवाल किए जाएंगे। लेकिन परीक्षार्थियों को अंदाजा नहीं था कि उनसे पुराणशास्र, राजनीति, इतिहास और यहां तक कि वामपंथी दर्शनशास्र से जुड़े सवाल भी किए जाएंगे, जिससे पता लगाया जा सके कि वह क्रिकेट एसोसिएशन के मेंबर बनने लायक हैं या नहीं।

Read Also: लोढ़ा समिति की सिफ़ारिशों के लिए बीसीसीआई को अधिक समय चाहिए: अनुराग ठाकुर

एसोसिएशन के प्रेसिडेंट अमिताभ चौधरी ने कहा, “किसी भी स्टेट एसोसिएशन ने इस तरह की पहल (नॉन क्रिकेटर्स को चुनना) नहीं कराई गई। लोगों के उत्साह से हम काफी खुश हैं। जल्द ही एक मैनेजिंग कमेटी मीटिंग बुलाई जाएगी और तय किया जाएगा कि किसे JSCA का मेंबर चुना जाए।” दरअसल यह लिखित परीक्षा नॉन क्रिकेटर्स को JSCA से जोड़ने के उद्देश्य से कराई गई एक पहल थी, जिसका फैसला लोढ़ा कमेटी की हाल में आए निर्देशों के मद्देनजर लिया गया था। बता दें कि लोढ़ा कमेटी ने निर्देश दिए हैं कि BCCI और इसकी राज्य यूनिट्स को चलाने के लिए ज्यादा पारदर्शिता लाई जाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. C
    Chotelal Vishwakarma
    Oct 18, 2016 at 11:50 am
    Aaj Beej Boya to Fal Ka Intjar Karo Modiji Sahi hai
    (0)(0)
    Reply
    सबरंग
    Indian Super League 2017 Points Table

    Indian Super League 2017 Schedule