ताज़ा खबर
 

जावेद मियांदाद ने कहा- मैच फिक्‍स करते हैं अफरीदी, शाहिद ने कहा- पैसों के भूखे हैं मियांदाद

मियांदाद ने कहा कि वह सिर्फ विदाई के लिए किसी को अंतर्राष्‍ट्रीय मैच देने के खिलाफ थे।
अफरीदी की इस टिप्‍पणी से मियांदाद भड़क गए।

पाकिस्‍तान के पूर्व क्रिकेटर जावेद मियांदाद ने रविवार को कहा कि वे साबित कर सकते हैं कि पाकिस्‍तानी क्रिकेट टीम के कप्‍तान शाहिद अफरीदी ने मैच बेचे हैं। अफरीदी के बयान कि मियांदाद हमेशा पैसों के भूखे रहे हैं, पर जवाब देते हुए मियांदाद ने कहा कि अफरीदी फिक्‍सर हैं। एक प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के दौरान रिपोर्टर ने अफरीदी से पूछा था कि वे जावेद मियांदाद के सुझाव कि उन्‍हें एक फेयरवेल मैच नहीं खेलने देना चाहिए, पर क्‍या कहेंगे। अफरीदी ने जवाब देते हुए कहा कि जावेद मियांदाद को ऐसी घटिया बात नहीं कहनी चाहिए थी। उन्‍होंने कहा, ”इमरान खान और जावेद मियांदाद के बीच यही फर्क है।” अफरीदी की इस टिप्‍पणी से मियांदाद भड़क गए। उन्‍होंने पलटवार करते हुए अफरीदी पर मैच फिक्‍सर होने का आरोप मढ़ दिया। उन्‍होंने कहा कि दुनिया उन्‍हें और इमरान खान, दोनों को जानती है। मियांदाद ने कहा कि इमरान खान ने हमेशा उनके बारे में अच्‍छा ही बाेला है। उन्‍होंने पुष्टि की कि उन्‍होंने बोर्ड को अफरीदी को विदाई मैच का मौका न दिए जाने की सलाह दी है।

सुषमा स्‍वराज ने भारतीय को पाकिस्‍तानी दुल्‍हन दिलाने में की मदद, देखें वीडियो:

दुनिया न्‍यूज से बातचीत में मियांदाद ने कहा कि वह सिर्फ विदाई के लिए किसी को अंतर्राष्‍ट्रीय मैच देने के खिलाफ थे। उन्‍होंने कहा कि सही मौके पर क्रिकेट छोड़ना किसी भी क्रिकेटर के लिए सम्‍मानजनक होता है। अफरीदी के ‘पैसों के भूखे’ होने के आरोप पर मियांदाद ने कहा कि अगर वह पैसों के भूखे होते तो क्रिकेट खेलना जारी रख सकते थे।

इससे पहले मियांदाद ने भारत-पाकिस्‍तान के बीच जारी तनाव पर विवादित बयान दिया था। मियांदाद ने इंटरव्यू में कहा था, ‘हम शहादत के लिए तैयार हैं। हमारा देश धमकियों के आगे नहीं झुक सकता। मोदी नहीं जानते वो किस कौम को ललकार रहे हैं। चीन-पाकिस्तान कॉरिडोर की वजह से भारत को आग लगी हुई है। भारत की अवाम से गुजारिश है कि इस….के खिलाफ मैदान में आएं। सड़कों पर उतरें और उसको साफ करें। आपके मुल्क में कुछ लोग ऐसे हैं जो अपनी वजह से आपको मरवाना चाहते हैं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 9, 2016 8:45 pm

  1. No Comments.
सबरंग