ताज़ा खबर
 

इस भारतीय क्रिकेटर को दुनिया का कोई गेंदबाज नहीं कर सका ‘शून्य’ पर आउट

यूं तो कोई भी बल्लेबाज शून्य पर कभी आउट नहीं होना चाहता लेकिन कई बार उन्हें इस तरह की अनचाही परिस्थितियों का भी सामना करना पड़ता है।
मध्यक्रम के बल्लेबाज यशपाल शर्मा ने 42 एकदिवसीय मैचों की 40 पारियों में 63.02 की स्ट्राइक रेट के साथ 883 रन बनाए।

क्रिकेट आंकड़ों का खेल है। किस खिलाड़ी ने कितनी बार शतक लगाया, कौन-सा गेंदबाज कितने विकेट लेने में सफल रहा? ऐसे ही रोचक फैक्ट्स इसके इतिहास में दर्ज हैं। यूं तो कोई भी बल्लेबाज शून्य पर कभी आउट नहीं होना चाहता लेकिन कई बार उन्हें इस तरह की अनचाही परिस्थितियों का भी सामना करना पड़ता है। लेकिन आज हम आपको उस भारतीय खिलाड़ी का नाम बताने जा रहे हैं, जो कभी वनडे में शून्य पर आउट नहीं हुआ।

जी हां, इस क्रिकेटर का नाम है यशपाल शर्मा। 11 अगस्त 1954 को लुधियाना में जन्में इस खिलाड़ी ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू 1978 में पाकिस्तान के खिलाफ किया था। यशपाल 1983 में वर्ल्ड कप विजेता भारतीय टीम के सदस्य भी रहे। वनडे में उन्हें सात साल तक कोई भी गेंदबाज शून्य पर आउट नहीं कर सका।

मध्यक्रम के बल्लेबाज यशपाल शर्मा ने 42 एकदिवसीय मैचों की 40 पारियों में 63.02 की स्ट्राइक रेट के साथ 883 रन बनाए। इस विकेटकीपर-बल्लेबाज का सर्वश्रेष्ठ स्कोर 89 रन रहा है। उन्होंने इसके साथ ही 4 अर्धशतक भी जड़े हैं। बात अगर टेस्ट मैच की करें तो यशपाल शर्मा ने 37 मैचों की 59 पारियों में दो शतक और 9 अर्धशतक की मदद से 1606 रन बनाए हैं। वह अपने करियर में 6 छक्के भी लगा चुके हैं। टेस्ट में उनका बेस्ट 140 रहा है। इसके अलावा वह अंतर्राष्ट्रीय मैचों में 2 विकेट भी ले चुके हैं। इस खिलाड़ी ने 160 फर्स्ट क्लास मैचों में 8933 रन बनाने के साथ दोहरा शतक भी जड़ा है। यशपाल शर्मा ने इंग्लैंड के खिलाफ चंडीगढ़ में 27 जनवरी 1985 को आखिरी अंतर्राष्ट्रीय मैच खेला था। हालांकि वह 1993 तक प्रथम श्रेणी क्रिकेट खेलते रहे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
Indian Super League 2017 Points Table

Indian Super League 2017 Schedule