December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

IND vs ENG दूसरा टैस्ट: इंग्लैंड को जीत के लिए 318 रनों की दरकार, भारत को चाहिए 8 विकेट

भारत के पास बचे हुए आठ विकेट चटकाने और पांच मैचों की सीरीज में 1.0 की बढ़त बनाने के लिये सोमवार (21 नवंबर) को पूरे तीन सत्र बचे हैं।

Author विशाखापत्तनम | November 21, 2016 10:52 am
विशाखापत्तनम में इंग्लैंड के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे टैस्ट मैच के चौथे दिन का खेल समाप्त होने के बाद भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली अपने साथी खिलाड़ियों के साथ। (PTI Photo by Ashok Bhaumik/20 Nov, 2016)

भारतीय स्पिनरों के खिलाफ इंग्लैंड की अति रक्षात्मक बल्लेबाजी के बाद मेजबानों ने दूसरे क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन विपक्षी टीम के कप्तान एलिस्टर कुक का विकेट हासिल अपनी पकड़ मजबूत कर ली। जीत के लिए 405 रन के विशाल लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड ने कप्तान कुक और युवा हसीब हमीद की रक्षात्मक बल्लेबाजी की बदौलत स्टंप तक दो विकेट पर 87 रन बना लिये जिससे हाशिम अमला और एबी डिविलियर्स की पिछले साल फिरोजशाह कोटला मैदान पर की गयी बल्लेबाजी की याद ताजा हो गयी।

पहले दो सत्र इंग्लैंड के लिये अच्छे रहे जिसमें कुक (188 गेंद में 54 रन) और 19 वर्षीय हमीद (144 गेंद में 25 रन) ने पहले विकेट के लिए 75 रन की भागीदारी निभायी। लेकिन सबसे अहम बात यह रही कि इन्होंने इंग्लैंड की दूसरी पारी में बल्लेबाजी के 150 ओवरों में से 50 ओवर तक बल्लेबाजी की। कुक ने अपना 53वां अर्धशतक बनाते हुए काफी संयम दिखाया, जो 172 गेंद में बना और यह लंबे प्रारूप में उनका सबसे धीमा अर्धशतक है। लेकिन रविंद्र जडेजा ने उनकी इस पारी का अंत दिन की अंतिम गेंद पर उन्हें पगबाधा आउट कर किया। इंग्लैंड को अब अंतिम दिन 318 रन की दरकार है लेकिन अगर वे मैच ड्रा कराने में सफल रहे तो उन्हें बहुत खुशी होगी।

भारत के पास बचे हुए आठ विकेट चटकाने और पांच मैचों की सीरीज में 1.0 की बढ़त बनाने के लिये सोमवार (21 नवंबर) को पूरे तीन सत्र बचे हैं। उनके साथ युवा हमीद ने अपने 25 रन के लिये 24 ओवरों का सामना किया, अश्विन ने दिन के अंत में उन्हें पगबाधा आउट किया। अश्विन ने कुछ विशेष हासिल करने की हताशा में दिन के अपने 13वें ओवर में एक ‘शूटर’ गेंद फेंकी और हमीद इसे दूर नहीं रख सके और इसके फेर में फंसकर पगबाधा आउट हुए। भारत की हताशा का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि कोहली ने अपने डीआरएस के दोनों रिव्यू छह गेंद के अंदर कप्तान कुक के खिलाफ ले लिये लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली।

इंग्लैंड ने 37.1 ओवर में 50 रन पूरे किये जो 1998 में द ओवल में श्रीलंका के खिलाफ दूसरी पारी मेंं बनाये गये उनके सबसे धीमे 38.5 ओवर में 50 रन से थोड़ा तेजी से बना था। अश्विन ने पहले स्पैल में 8-3-12-0 की गेंदबाजी की और उन्हें फिर 43वें ओवर में ही लगाया गया। इससे पहले कप्तान विराट कोहली की 81 रन की जुझारू पारी के बाद अंतिम विकेट की 42 रन की साझेदारी की बदौलत भारत ने जीत के लिए 405 रन का लक्ष्य दिया। दिन की शुरुआत तीन विकेट पर 98 रन से करने वाले भारत की दूसरी पारी कोहली के 81 रन के बावजूद लंच से पहले 63.1 ओवर में 204 रन पर सिमट गई। जयंत यादव (नाबाद 27) और मोहम्मद शमी (19) ने अंतिम विकेट के लिए 42 रन जोड़कर भारत की कुल बढ़त 400 रन के पार पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई।

इंग्लैंड की ओर से तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्राड ने 33 जबकि लेग स्पिनर आदिल राशिद ने 82 रन देकर चार-चार विकेट चटकाए। कोहली ने एक बार फिर शानदार बल्लेबाजी की। उन्होंने 109 गेंद की अपनी पारी के दौरान चार चौके जड़े। वह हालांकि जब एक और शतक की ओर बढ़ रहे थे तब राशिद की गेंद पर बेन स्टोक्स ने स्लिप में एक हाथ से उनका शानदार कैच लपका। पहली पारी में भी स्टोक्स ने स्लिप में कोहली का शानदार कैच पकड़ा था। कोहली के आउट होने तक हालांकि भारत की कुल बढ़त 350 रन के पार पहुंच गई थी।

सुबह के सत्र में ब्राड ने इंग्लैंड को वापसी दिलाई। इस तेज गेंदबाज ने दायें पैर में चोट के बावजूद शानदार गेंदबाजी करते हुए कल के नाबाद बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे (26) और रविचंद्रन अश्विन (07) को पवेलियन भेजा। ब्राड की उछाल लेती गेंद रहाणे के ग्लव्स को चूमती हुई विकेटकीपर जानी बेयरस्टा के पास गई जिन्होंने इसे लपकने में कोई गलती नहीं की। अश्विन छह रन के निजी स्कोर पर डीआरएस की मदद से ब्राड की गेंद पर पगबाधा आउट होने से बचे लेकिन इसके अगले ओवर में बेयरस्टा को कैच दे बैठे। राशिद ने इसके बाद कोहली को स्टोक्स के हाथों कैच कराया और फिर रविंद्र जडेजा (14) और उमेश यादव (00) को भी पवेलियन भेजा।

शमी और जयंत ने अंतिम विकेट के लिए 58 गेंद में 42 रन जोड़कर भारत की बढ़त को 400 रन के पार पहुंचाया। मोईन अली (नौ रन पर एक विकेट) ने शमी को स्टंप कराके भारत की पारी का अंत किया। शमी ने 19 गेंद का सामना करते हुए दो छक्के और एक चौका मारा जबकि जयंत ने 59 गेंद का सामना करते हुए चार चौके जड़े।

भारत पहली पारी: 455 रन
इंग्लैंड पहली पारी: 255 रन

भारत दूसरी पारी:
मुरली विजय का रूट बो ब्राड 03
लोकेश राहुल का बेयरस्टा बो ब्राड 10
चेतेश्वर पुजारा बो एंडरसन 01
विराट कोहली का स्टोक्स बो राशिद 81
अजिंक्य रहाणे का कुक बो ब्राड 26
रविचंद्रन अश्विन का बेयरस्टा बो ब्राड 07
रिद्धिमान साहा पगबाधा बो राशिद 02
रविंद्र जडेजा का मोईन बो राशिद 14
जयंत यादव नाबाद 27
उमेश यादव का बेयरस्टा बो राशिद 00
मोहम्मद शमी स्टं बेयरस्टा बो मोईन 19

अतिरिक्त: 14
कुल: 63 . 1 ओवर में सभी विकेट खोकर: 204 रन
विकेट पतन: 1-16, 2-17, 3-40, 4-117, 5-127, 6-130, 7-151, 8-162, 9-162
गेंदबाजी:
एंडरसन 15-3-33-1
ब्राड 14-5-33-4
राशिद 24-3-82-4
स्टोक्स 7-0-34-0
मोईन 3.1-1-9-1

इंग्लैंड दूसरी पारी :
एलिस्टर कुक पगबाधा बो जडेजा 54
हसीब हमीद पगबाधा बो अश्विन 25
जो रूट खेल रहे हैं 05
अतिरिक्त : 03
कुल योग : 59.2 ओवर में दो विकेट पर : 87 रन
विकेट पतन : 1/75, 2/87
गेंदबाजी :
मोहम्मद शमी 9-2-16-0
उमेश यादव 8-3-8-0
आर अश्विन 16-5-28-1
रविंद्र जडेजा 22.2-8-25-1
जयंत यादव 4-1-7-0

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 20, 2016 6:14 pm

सबरंग