ताज़ा खबर
 

IND vs AUS: कुंबले ने कहा- ऑस्ट्रेलिया चुनौती दे सकता है, लेकिन ख़ास महत्व देने की ज़रूरत नहीं

कुंबले ने कहा कि वह स्टीव स्मिथ एंड कंपनी को किसी अन्य टीम की तरह ही लेगी।
Author पुणे | February 21, 2017 22:54 pm
अनिल कुंबले के साथ भारतीय टैस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली। (पीटीआई फाइल फोटो)

भारतीय कोच अनिल कुंबले को अच्छी तरह से पता है कि ऑस्ट्रेलिया उनकी टीम को कड़ी चुनौती पेश कर सकता है लेकिन उन्होंन कहा कि मेजबान टीम इस श्रृंखला अन्य की तुलना में विशेष महत्व नहीं दे रही है और वह स्टीव स्मिथ एंड कंपनी को किसी अन्य टीम की तरह ही लेगी। ऑस्ट्रेलिया की टीम भारत के पिछले दौरे में 0-4 से हार गयी थी और कुंबले ने कहा कि जब गुरुवार (23 फरवरी) से यहां पहला टेस्ट मैच शुरू होगा तो उनकी टीम मेहमान टीम की चुनौती का करारा जवाब देने की कोशिश करेगी।

कुंबले ने कहा, ‘हम प्रत्येक प्रतिद्वंद्वी का सम्मान करते हैं। हमने न्यूजीलैंड के खिलाफ श्रृंखला शुरू होने से पहले इस पर बात की थी। इंग्लैंड की चुनौती कड़ी थी। हम सभी ऑस्ट्रेलियाई टीम के बारे में जानते हैं। वे वास्तव में पेशेवर हैं लेकिन हम उन्हें किसी अन्य टीम की तरह ही लेना चाहेंगे।’ उन्होंने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि हमें इस श्रृखंला को अन्य की तुलना में कोई विशेष महत्व देने की जरूरत है। हमें वही सब काम अच्छी तरह से करने होंगे जो हम पिछले छह से आठ महीनों में करते रहे हैं।’ कुंबले ने कहा, ‘उनकी टीम अच्छी है। उसके पास अच्छे बल्लेबाज और गेंदबाज हैं। वे आक्रामक क्रिकेट खेलते हैं। हम इससे वाकिफ हैं और उसका जवाब देने के लिये मिलकर रणनीति तैयार करेंगे।’

इस पूर्व लेग स्पिनर ने कहा कि उनकी टीम भिन्न चुनौतियों का सामना करने में सक्षम है। उन्होंन साथ ही कहा कि यह सत्र शुरू होने के बाद से टीम कई बार मुश्किल परिस्थितियों से बाहर निकली है। कुंबले ने कहा, ‘अगर आप उन नौ टेस्ट मैच पर ध्यान दो जो हमने घरेलू श्रृंखला में खेले तो हर किसी में खास चुनौती थी। हम कुछ नये स्थानों पर खेले। हम ऐसे स्थानों पर खेले जहां इससे पहले टेस्ट मैच नहीं खेले गये थे। इस तरह से देखा जाए तो यह टीम जो भी चुनौती मिले उससे सामंजस्य बिठाने में सक्षम है। वास्तव में जिस तरह से अभी तक चल रहा है मैं उससे संतुष्ट हूं।’

उन्होंने कहा, ‘चेन्नई टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने पहली पारी में लगभग 500 रन बनाए और मुझे नहीं लगता कि अधिकतर लोगों ने भारत को जीत का दावेदार माना होगा। मुंबई में इसी तरह का मामला था जहां हम टास हार गये थे और उन्होंने 400 रन बनाये और हम पारी से जीते। यह इस टीम का मजबूत पक्ष होगा।’ कुंबले ने कहा, ‘यहां तक कि कोलकाता में न्यूजीलैंड के खिलाफ परिस्थितियां एकदम से भिन्न थी। वहां तेज गेंदबाज अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे। हमारे पास उन सभी सवालों के जवाब थे। आप एक चैंपियन टीम से यही चाहते हो। हम वास्तव में इसी तरह की टीम तैयार करना चाहते हैं और वास्तव में पिच या परिस्थितियों से चिंतित नहीं हैं।’

IPL 2017: ये 5 रहे सबसे महंगे, इन 5 को नहीं मिला खरीददार

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.