December 04, 2016

ताज़ा खबर

 

सहवाग-गंभीर, सचिन-लक्ष्मण से भी आगे निकली चेतेश्वर पुजारा और मुरली विजय की जोड़ी, बनाया ये रिकॉर्ड

दोनों बल्लेबाज़ पिछले 10 साल में रन औसत के लिहाज से साझेदारी के मामले में भारत की सबसे सफल जोड़ी बन गए हैं।

इंग्लैंड के खिलाफ राजकोट टेस्ट मैच में रन लेते भारत के शतकवीर बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा और मुरली विजय। (Photo: AP)

टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच राजकोट के सौराष्ट्र क्रिकेट स्टेडियम में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच में दोनों टीमों की ओर से कुछ नए रिकॉर्ड बने। इंग्लैंड टीम के 573 रनों के जवाब में भारतीय टीम ने भी अच्छी शुरूआत की है। भारतीय टीम का पहला विकेट गिरने के बाद मुरली विजय और चेतेश्वर पुजारा ने टीम इंडिया के लिए अच्छी साझेदारी निभायी। इसके साथ ही ये दोनों बल्लेबाज़ पिछले 10 साल में रन औसत के लिहाज से साझेदारी के मामले में भारत की सबसे सफल जोड़ी बन गए हैं। पुजारा और विजय ने एक साथ 32 पारियां खेली हैं जिसमें दोनों ने मिलकर 64.35 के औसत से 2000 से ज्यादा रन जोड़े हैं। टेस्ट मैचों में साझेदारी के मामले में पिछले 10 साल में पुजारा और विजय के बाद विराट कोहली और रहाणे का जोड़ी दूसरी सबसे सफल जोड़ी है, दोनों ने मिलकर 25 पारियों में 63.16 के औसत से 1579 रन जोड़े हैं। इन दोनों के बाद तीसरे नंबर पर कप्तान धोनी और लक्ष्मण की जोड़ी है, उन्होंने मिलकर 25 पारियों में 55.18 के औसत से 1214 रन जोड़े हैं। चौथे नंबर पर पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ और वीरेंद्र सहवाग का नाम आता है, दोनों ने मिलकर 28 पारियों में साथ बल्लेबाज़ी की और 55.03 के औसत से 1846 रन जोड़े।

वीडियो: राजकोट टेस्ट मैच में इंग्लैंड के खिलाफ शतक लगाने के बाद चुतेश्वर पुजारा

इंग्लैंड ने 31 साल बाद बनाया दूसरा सबसे बड़ा स्कोर: इंग्लैंड की टीम ने पहली पारी में 537 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया जिसके जवाब में भारत ने भी ठोस शुरूआत की है। इस दौरान इंग्लैंड की टीम ने 31 सालों के बाद भारत के विरुद्ध टेस्ट मैचों में अपना दूसरा सबसे बड़ा स्कोर बनाया। इससे पहले इंग्लैंड की टीम ने आखिरी बार चेन्नई में 1985 में 652 रन बनाए थे। इसके बाद भारत के खिलाफ उसी के घर में दूसरा सबसे बड़ा स्कोर बनाने में इंग्लैंड को 31 साल का वक्त लगा और इंग्लिश टीम ने राजकोट टेस्ट मैच में 537 रन बनाए। इंग्लैंड ने 1985 के बाद से अब तक भारत में 15 टेस्ट मुकाबले खेले हैं और राजकोट टेस्ट की पहली पारी में बनाए गए 537 रन भारत में भारत के खिलाफ उसका दूसरा सबसे बड़ा टेस्ट स्कोर है। इस स्कोर तक पहुंचने में इंग्लैंड के 3 बल्लेबाज़ों(जो रूट, मोईन अली और बेन स्टोक्स) का योगदान रहा जिन्होंने शानदार शतक लगाए।

वीडियो: मुरली विजय अपने टेस्ट करियर का 7वां शतक लगाया

भारत में आठ साल बाद किसी विदेशी टीम ने किया ये कारनामा: इन बल्लेबाज़ों की दमदार पारियों की मदद से इस मुकाबले में इंग्लैंड ने एक और रिकॉर्ड बनाया। इस मैच की पहली पारी में इंग्लैंड के पहले 6 विकेट तक हर विकेट के लिए 25 रनों से अधिक की साझेदारी हुई। किसी टीम की तरफ से भारत के खिलाफ ऐसे रिकॉर्ड पूरे 8 साल लगे। पिछले 8 सालों में भारत दौरे पर आई कोई भी विदेशी टीम ऐसा नहीं कर पाई है। इससे पहले 2008-09 में भारत दौरे पर आई ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पहले 6 विकेट तक हर विकेट के लिए 25 से अधिक रनों की साझेदारी की थी।

वीडियो: टेस्‍ट मैचों की मेजबानी करने वाला दुनिया का 120वां स्‍टेडियम बना राजकोट का मैदान

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 11, 2016 3:32 pm

सबरंग