ताज़ा खबर
 

अंग्रेजों को 4-0 से हराने के बावजूद कोहली की टीम को नहीं मिलेगा इंसेन्टिव, फंसा है यह पेंच

वरिष्‍ठ टीम को जूनियर टीमों से ज्‍यादा रुपए बतौर इंसेंटिव मिलते हैं।
टैस्ट सिरीज़ में इंग्लैंड को 4-0 से हराने के बाद ग्रुप फोटो के दौरान ट्रॉफी के साथ भारतीय टीम के खिलाड़ी। (PTI Photo by R Senthil Kumar/20 Dec, 2016)

भारतीय क्रिकेट में हाल के वर्षों में यह परंपरा बन गई है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) टीम इंडिया और अंडर-19 टीम के अच्‍छे प्रदर्शन पर इंसेंटिव देता है। हालांकि इंग्‍लैंड के खिलाफ पांच टेस्‍ट मैचों की घरेलू सीरीज में 4-0 से शानदार जीत दर्ज करने के बावजूद विराट कोहली की टीम को इस बार इंसेंटिव नहीं मिल पाएगा। ऐसा इसलिए क्‍योंकि लोढ़ा कमेटी की सिफारिशें लागू करने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत बोर्ड के हाथ फिलहाल बंधे हुए हैं। सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में बीसीसीआई की वित्‍तीय स्‍वतंत्रता और शक्तियाें पर तब तक पाबंदी लगा रखी है, जब तक बोर्ड और उसकी राज्‍य एसोसिएशनें लोढ़ा कमेटी की सिफारिशें लागू नहीं कर देतीं। फिलहाल बीसीसीआई को कोई भी रकम जारी करने से पहले सुप्रीम कोर्ट से इजाजत लेनी होगी। इंडियाटाइम्‍स से बातचीत में बीसीसीआई के वरिष्‍ठ पदाधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा, ”3 जनवरी को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई से पहले कुछ नहीं हो सकता।”

वरिष्‍ठ टीम को जूनियर टीमों से ज्‍यादा रुपए बतौर इंसेंटिव मिलते हैं। 2015 में जब कोहली की टीम में चार मैचों की सीरीज में 3-0 से हराया था तो बीसीसीआई ने टीम को 2 करोड़ रुपए का इंसेटिव दिया था। सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्‍त की गई जस्टिस आरएम लोढ़ा कमेटी की सिफारिशें लागू करने में बीसीसीआई नाकाम रही थी, इसलिए सुप्रीम कोर्ट से इजाजत के बिना इंसेंटिव नहीं दिया जा सकता। अगर बीसीसीआई सुप्रीम कोर्ट में इस संबंध में अपील करता है तो फिर विराट एंड कंपनी का इंतजार जल्‍दी खत्‍म हो सकता है।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने बुधवार (21 दिसंबर) को कहा कि बीसीसीआई ने जस्टिस आर एम लोढ़ा समिति की अस्सी प्रतिशत सिफारिशें लागू कर दी है लेकिन तीन चार सिफारिशों के बारे में बातचीत के लिये समिति दो महीने  से मिलने का समय नहीं दे रही है।

5 टेस्ट मैचों की सीरीज में 4-0 से जीत ऐसी पहली जीत है, जब इंग्लैंड के खिलाफ भारत कोई टेस्ट सीरीज को 4-0 से जीतने में कामयाब हुआ है। 9 नवंबर को दोनों टीमों के बीच खेला गया पहला मैच ड्रॉ रहा था। विशाखापत्तनम में खेला गया मैच भारत ने 246 रन से जीत था। मोहाली में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में भी भारत ने अपना दबदबा बनाते हुए इंग्लैंड को 8 विकेट से हराया था। मुंबई के वानखेड़े में खेले गए चौथे टेस्ट मैच में भारत ने पारी और 36 रन से जीत दर्ज की थी। चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेले गए पांच टेस्ट मैचों के आखिरी मुकाबले में इंग्लैंड को पारी और 75 रन से मात देकर सीरीज 4-0 से जीत ली।

Ind vs Eng: सीरीज़ जीतने पर बोले कप्तान विराट कोहली- “कोई भी सीरीज़ आसान नहीं होता”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.