ताज़ा खबर
 

इंग्लैंड के ऑलराउंडर डैरेन स्टीवंस के सिर में लगी बाउंसर, हेलमेट के भी उड़ गए परखच्चे

स्टीवंस 273 फर्स्ट क्लास मैच खेल चुके हैं। साथ ही 400 विकेट लेने से महज 3 विकेट दूर हैं।
घटना उस दौरान घटी जब काउंटी चैंपियनशिप में कैंट और नॉटिंघमशायर टीमों के बीच मैच खेला जा रहा था। (फोटो सोर्स फेसबुक)

इंग्लिश क्रिकेटर डैरेन स्टीवंस को सिर में बाउंसर गेंद लगने के बाद हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। घटना उस दौरान घटी जब काउंटी चैंपियनशिप में कैंट और नॉटिंघमशायर टीमों के बीच मैच खेला जा रहा था। खबर के अनुसार स्टीवंस के सिर के अंदरूनी हिस्से में चोट लगी है साथ ही उन्हें तेज सिरदर्द होने की भी खबरे हैं। घटना मैच की दूसरी पारी के दौरान घटी। रिपोर्ट के अनुसार मैच की दूसरी पारी में 31 रन बनाकर बल्लेबाजी कर रहे स्टीवंस को गेंदबाज हैरी गर्ने ने बाउंसर गेंद फेंकी जो उनके सिर के पिछले हिस्से में जाकर लगी। गेंद की गति का अंदाजा इसी लगाया जा सकता है कि उनका हेलमेट भी बाउंसर से बुरी तरह टूट गया था। हालांकि शुरुआत में स्टीवंस ने चोट को नजरअंदाज किया और दोबारा बल्लेबाज करने के लिए मैदान पर आ गए। लेकिन सात बॉल खेलने के बाद उन्होंने शिकायत की कि उन्हें गेंद साफ दिखाई नहीं दे रही। इसके बाद उन्होंने तुरंत मैच बीच में छोड़ दिया और सिर की जांच के लिए स्टीवंस को हॉस्पिटल ले जाया गया। जहां बयान जारी कर बताया कि स्टीवंस उस मैच में आगे हिस्सा नहीं लेंगे साथ ही अगले कुछ मैचों में उन्हें आराम देने की बात कही गई है।

मामले में स्टीवंस के कोच मेट वॉकर ने कहा, ‘डैरेन अभी भी पूरी तरह से स्वस्थ्य नहीं है। सिर के अंदरूनी हिस्से में चोट के चलते उन्हें आराम की सलाह दी गई है। उनकी बांई आंख में दृष्टि से जुड़ी परेशानी है। हालांकि उन्हें जल्द ही हॉस्पिटल से छुट्टी दे दी जाएगी लेकिन वो अभी पूरी तरह से स्वस्थ्य नहीं है।’ वहीं दूसरी तरफ स्टीवंस को बाउंस फेंकने वाले गेंदबाज हैरी गर्ने ने इसके लिए दुख जताया है। उन्होंने कहा कि हम दोनों बहुत अच्छे दोस्त हैं और लंबे समय तक हमारी दोस्ती कायम रहेगी। जानकारी के लिए बता दें कि स्टीवंस 273 फर्स्ट क्लास मैच खेल चुके हैं। साथ ही 400 विकेट लेने से महज 3 विकेट दूर हैं। इंग्लैंड के घरेलू क्रिकेट में उनके दबदबे का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि स्टीवंस अबतक 14,000 रन बना चुके हैं।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग