ताज़ा खबर
 

भारतीय क्रिकेट में भाइयों की इन जोड़ियों ने जमकर मचाया है धमाल, देश का कई बार किया नाम ऊंचा

क्रिकेट इतिहास में कई देशों में एक ही टीम में दो भाई साथ खेल चुके हैं। स्टीव वॉ-मार्क वॉ, कामरान अकमल-उमर अकमल, एंडी फ्लावर-ग्रांट फ्लावर।
क्रुनाल और हार्दिक पंड्या।

भारत में कोई भी बच्चा क्रिकेट की पहली तालीम गली क्रिकेट से लेता है। दोस्तों या भाई के साथ पार्क, गली या घर की छत पर तीन डंडियां या ईंटें खड़ी करके क्रिकेट खेलने लगता है। अगर किसी घर में भाई ज्यादा हों तो वह साथ-साथ इस खेल को खेलते हुए बड़े होते हैं। क्रिकेट इतिहास में भी एक ही टीम में दो भाइयों साथ खेले। उन्होंने न सिर्फ अपने परिवार का बल्कि देश का नाम भी रोशन किया। स्टीव वॉ-मार्क वॉ, उमर अकमल-कामरान अकमल इसी के उदाहरण हैं। भारतीय क्रिकेट भी इससे अछूता नहीं रहा। टीम इंडिया में भी कई खिलाड़ी एेसे थे, जिनका खून का रिश्ता था।

सीके नायडू और सीएस नायडू : सीके नायडू भारतीय क्रिकेट टीम के पहले कप्तान थे और उनके भाई सीएस नायडू भी इस दौरान टीम में खेलते थे। भारतीय क्रिकेट में पहली बार दो भाई टीम में खेल रहे थे। दोनों ने चार साल (1932-36) तक क्रिकेट खेला। सीके नायडू ने चार टेस्ट मैचों में टीम इंडिया की कप्तानी की थी। इनके परिवार में ये 4 भाई थे और सभी क्रिकेट खेलते थे। हालांकि दो बड़े भाई अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नहीं खेल पाए।

वजीर और नजीर अली : 1932 में जब टीम इंडिया इंग्लैंड दौरे पर गई थी तो दोनों भाई भी उसका हिस्सा थे। अली बंधू के नाम से मशहूर दोनों विस्फोटक बल्लेबाज माने जाते थे। दोनों ने मिलकर 200 फर्स्ट क्लास मैच खेले और 10 हजार से ज्यादा रन बनाए। नजीर अॉलराउंडर थे। उन्होंने देश के लिए 2 टेस्ट मैच खेले। जबकि वजीर ने सात। बताया जाता है कि पहली क्रिकेट टीम में सीके नायडू के बाद खिलाड़ी वजीर से ही पूछा करते थे।

मोहिंदर और सुरिंदर अमरनाथ: इनके पिता लाला अमरनाथ भी एक क्रिकेट रह चुके हैं। दोनों भाई शानदार बल्लेबाज थे। सुरिंदर तो भारत के लिए 3 वनडे और 10 टेस्ट मैच ही खेल पाए, लेकिन उनके छोटे भाई मोहिंदर ने 20 साल क्रिकेट खेला। 69 टेस्ट और 85 वनडे खेलने वाले मोहिंदर 1983 की विश्व कप विजेता टीम का हिस्सा भी थे। फाइनल मैच में उन्हें मैन अॉफ द मैच चुना गया था।

यूसुफ और इरफान पठान : वडोदरा से ताल्लुक रखने वाले पठान ब्रदर्स को कौन नहीं जानता। यूसुफ पठान जहां विस्फोटक बल्लेबाज हैं, वहीं इरफान अॉलराउंडर, जो स्विंग गेंदबाजी में महारथ रखते हैं। उनके पिता एक स्थानीय मस्जिद में अज़ान पढ़ते थे और परिवार की मासिक आय कुल 250 रुपये थी। दोनों भाई एक ही किट इस्तेमाल करते थे। लेकिन अपने टैलेंट की बदौलत दोनों ने टीम इंडिया में जगह पाई। आईपीएल में भी दोनों ने धुआंधार प्रदर्शन किया। यूसुफ कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेलते हैं। जबकि इरफान 2017 में गुजरात लॉयन्स का हिस्सा थे।

क्रुनाल और हार्दिक पंड्या: ये दोनों भाई भी वडोदरा से आते हैं। हार्दिक पंड्या तो टीम इंडिया की नई सनसनी हैं। टेस्ट टीम में भी शामिल हो चुके हैं। लेकिन क्रुनाल को टीम में खेलने का मौका नहीं मिला है। दोनों भाई अॉलराउंडर हैं और आईपीएल में मुंबई इंडियन्स का हिस्सा हैं। पिता के अचानक निधन के बाद उनका करियर डावांडोल हो गया था, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी।     

देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग
Indian Super League 2017 Points Table

Indian Super League 2017 Schedule