ताज़ा खबर
 

2017 में किस क्षेत्र में मिलेंगी कितनी नौकरियां, जानिए

नोटबंदी के ऐतिहासिक फैसले के बाद 2017 में कई क्षेत्रों पर काफी असर पड़ा है और इसकी वजह से कई क्षेत्रों में नौकरियां बढ़ने के आसार हैं तो कई क्षेत्रों में नौकरियां कम भी हो रही है।
डिजिटाइजेशन की वजह से आईटी क्षेत्र पिछली साल की तुलना में ज्यादा ग्रोथ कर सकता है और इस क्षेत्र में नौकरियां बढ़ेगी।

नोटबंदी के ऐतिहासिक फैसले के बाद 2017 में कई क्षेत्रों पर काफी असर पड़ा है और इसकी वजह से कई क्षेत्रों में नौकरियां बढ़ने के आसार हैं तो कई क्षेत्रों में नौकरियां कम भी हो रही है। बाजार के जानकारों के अनुसार नोटबंदी की वजह से ई-वॉलेट कंपनियों के कारोबार में 300 फीसदी का इजाफा हुआ है और इस साल इस क्षेत्र में कई नौकरियों का जन्म हो सकता है। इसी बीच आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि किस किस क्षेत्र में नौकरियों के कितने अवसर पैदा हो सकते हैं।

अगर आईटी क्षेत्र की बात करें तो आईटी क्षेत्र में सबसे ज्यादा नौकरियां पैदा होने के आसार है। टाइम्स की ओर से करवाए एक सर्वे के अनुसार आईटी में 25 फीसदी नौकरियां मिल सकती है। डिजिटाइजेशन की वजह से आईटी क्षेत्र पिछली साल की तुलना में ज्यादा ग्रोथ कर सकता है और इस क्षेत्र में नौकरियां बढ़ेगी। वहीं सेल्स क्षेत्र में करीब 20 फीसदी नौकरियां बढ़ सकती है और रिसर्च एंड डवलपेंट क्षेत्र में 20 फीसदी नौकरियों के ज्यादा अवसर पैदा हो सकते हैं। वहीं अन्य क्षेत्रों की बात करें तो मार्केटिंग और एडवरटाइजिंग क्षेत्र में 15 फीसदी, एडमिनिस्ट्रेशन में 10 फीसदी, एचआर में 5 फीसदी और फाइनेंस में 5 फीसदी नौकरियों में ग्रोथ हो सकती है।

वहीं नोटबंदी की वजह से डिजिटल सिक्योरिटी आर्किटेक्ट, लेंग्वेज प्रोग्रामर, डिजिटल चैंपियंस, डिजिटल आर्किटेक्ट जैसे नए रोजगार भी पैदा हो सकते हैं। डिजिटाइजेशन से डिजिटल कारोबार कंपनियों करने वाली कंपनियों के लिए फायदा तो हो जाएगा, लेकिन इसी के साथ उनकी चुनौतियों भी बढ़ जाएगी। ये आर्किटेक्ट मार्केट में चल रहे डिजिटल ट्रेंड, कस्टमर सेटिस्फेक्शन, कस्टमर की जरुरत को लेकर काम करेंगे। साथ ही ज्यादा से ज्यादा ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए काम करेंगे। बता दें कि साल 2020 तक बैंकिंग और वित्तीय क्षेत्र में शामिल होने के लिए 9 लाख लोगों की आवश्यकता होगी। टीम लीज सर्विसेज की एक रिपोर्ट में बताती है कि अगले साल बैंकिंग और वित्तीय क्षेत्र में 15 से 20 फीसदी तक ज्यादा भर्तियां होंगी।

पीएम मोदी डिग्री विवाद: CIC ने DU से 1978 के रिकॉर्ड दिखाने का दिया निर्देश

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग