ताज़ा खबर
 

फाइनल इंटरव्यू के लिए आया है कॉल तो ना कर बैठें ये गलतियां, छीन सकती है नौकरी

आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जो कि आपके फाइनल इंटरव्यू में काम आएगी और उन गलतियों से बचकर आप अपनी नौकरी पक्की कर सकते हैं।
जब भी आप फाइनल इंटरव्यू के लिए जाएं तो ड्रेसिंग सेंस का विशेष रूप से ध्यान रखें और अच्छा इम्प्रेशन छोड़ने की कोशिश करें।

आजकल हर कंपनी तीन-चार या ज्यादा चरणों में इंटरव्यू करवाती है और लंबे प्रोसेस के बाद योग्य उम्मीदवारों का चयन करती है, जिसमें कई सीनियर केंडिडेट से बातचीत करते हैं। जब आप हर चरण में पास हो जाते हैं तो आपको बाद में फाइनल इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है और उस वक्त आप सोचते हैं कि आपका चयन हो गया है। उसके बाद आप ज्यादा खुश हो जाते हैं और कुछ गलतियां कर देते हैं जिससे आपको काम बिगड़ जाता है। हमेशा फाइनल इंटरव्यू को भी उतनी ही गंभीरता से लेना चाहिए, जितना की इंटरव्यू के अन्य लेवल को लेते हैं। इसलिए आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जो कि आपके फाइनल इंटरव्यू में काम आएगी और उन गलतियों से बचकर आप अपनी नौकरी पक्की कर सकते हैं।

गुड इम्प्रेशन- जब भी आप फाइनल इंटरव्यू के लिए जाएं तो ड्रेसिंग सेंस का विशेष रूप से ध्यान रखें और अच्छा इम्प्रेशन छोड़ने की कोशिश करें। कई बार आप नौकरी पक्का समझकर ऐसी गलतियां कर देते हैं और नौकरी से हाथ धोना पड़ जाता है। इसलिए फाइनल इंटरव्यू के लिए कभी कैजुअल ड्रेस में न जाएं और इंटरव्यू का ड्रेस कोड हमेशा फॉलो करें।

ज्यादा लोगों से ना करें शेयर- फाइनल इंटरव्यू की बात से लोग खुशी के मारे सभी को बताने लगते हैं और पुराने ऑफिस में भी उसका गुणगान कर देते हैं, जो कि गलत है। नियोक्ता कई बार फाइनल इंटरव्यू में आपके सामने ऐसे सवाल रखते हैं, जिनका जवाब आपके पास नहीं होता है और आपको नौकरी में जगह नहीं मिल पाती है। इसलिए जब तक सेलेक्शन फाइनल न हो जाए आपको ज्यादा लोगों से बात शेयर नहीं करनी चाहिए।

न हों फ्रेंडली- हमेशा एक बात का ध्यान रखें कि जब भी आप इंटरव्यू देने जाए इस दौरान अनुशासन में रहें। अगर आप किसी नियोक्ता को पहले से जानते भी हैं, तब भी इंटरव्यू के दौरान उसके साथ ज्यादा फ्रेंडली होने की कोशिश न करें। फाइनल इंटरव्यू के लिए बुलाए जाने पर ज्यादातर उम्मीदवार कैजुअल बर्ताव करते हैं, लेकिन अगर आप चाहते हैं कि आपका सेलेक्शन हो और आपको फाइनल इंटरव्यू में रिजेक्ट न किया जाए, तो इसके लिए कभी भी नियोक्ता से इस दौरान ज्यादा फ्रेंडली न हों और डेकोरम बनाए रखें।

चिदंबरम ने नोटबंदी को बताया साल का सबसे बड़ा घोटाला; कहा- ‘खोदा पहाड़ निकली चुहिया’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. R
    Rajesh kumar
    Dec 13, 2016 at 5:01 pm
    कुछ bhi
    Reply
सबरंग