ताज़ा खबर
 

एक ऐसा मंदिर जहां भगवान खुद करते हैं मौसम की भविष्यवाणी!

भारत देश एक धर्म प्रधान देश है। यहां लोगों के मन में भगवान को लेकर काफी श्रद्धा है।
फोटो सोर्स – यू-ट्यूब

दुनिया में कई ऐसे लोग है जिनका भगवान के ऊपर अटूट विश्वास है। भारत में ही कई ऐसी मंदिर हैं जिनको लेकर भक्तों के मन अजीब-अजीब धारणाएं बनी हुई है। भारत देश एक धर्म प्रधान देश है। यहां लोगों के मन में भगवान को लेकर काफी श्रद्धा है। ऐसे में आज हम आपको एक ऐसी ही मंदिर के बारे में बताने जा रहे हैं जहां भगवान खुद मौसम की भविष्यमाणी करते हैं।
कोटा के पूर्व राजपरिवार के निवास स्थल गढ़ पैलेस में बृजनाथ जी का एक मंदिर मौजूद है। इस मंदिर के प्रति वहां रहने वाले लोगों के मन में बेहद श्रद्धा है। यहां के राजपरिवार खुद इस मंदिर की पूजा-पाठ करते हैं। कहा जाता है कि इस मंदिर में बरसात से लेकर फसलों की भविष्यवाणी की जाती है। इस मंदिर में साल में कौन सी फसल सबसे अधिक पैदावर करेगी इस बात का पता पहले ही चल जाता है।

आचार्य के अनुसार आषाढ़ी पूर्णिमा पर शाम को सूर्यास्त के बाद शयन आरती के बाद प्रमुख तिल, मक्का, ज्वार, धनिया, सोयाबीन, मूंग, उड़द, चावल, मूंगफली व चवला आदि को निश्चित मात्रा में लेकर मंदिर में सफेद कपड़े से ढक कर रख दिया जाता है।

इसके बाद जब अगले दिन इसकी माप-तोल एक बार फिर की जाती है तो कई फसल का वजन बढ़ जाता है तो वही कुछ फसलों का वजन कम हो जाता है। लोगों का मानना है कि जिस फसल का वजन ज्यादा होता है, उसकी पैदावर उस साल अच्छी होती है जबकि कम वाले की पैदावार ज्यादा नहीं होती है। यहां रहने वाले लोगों के मुताबिक सालों से यह प्रथा चली आ रही है और अभी तक यह भविष्यमाणी बिल्कुल सटीक बैठी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.