December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

आतंकी समूहों के खिलाफ पाकिस्तान के ढुलमुल रवैये से अमेरिका नाराज़

अमेरिका ने कहा पाकिस्तान से कहा कि किसी भी देश को दूसरे देशों में आतंकी हमले करने के लिए अपने क्षेत्र का इस्तेमाल करने की अनुमति नहीं देना चाहिए।

Author वॉशिंगटन | November 19, 2016 14:07 pm
अमेरिकी राष्ट्रपति का आधिकारिक निवास स्थान व्हाइट हाउस। (REUTERS/Yuri Gripas/17 Sep, 2016)

व्हाइट हाउस ने कहा है कि पाकिस्तान अपनी धरती से संचालित आतंकी समूहों के खिलाफ और प्रभावी कदम ‘उठा सकता है और उसे कदम उठाना चाहिए’ क्योंकि किसी भी देश को दूसरे देशों में आतंकी हमले करने के लिए अपने क्षेत्र का इस्तेमाल करने की अनुमति नहीं देना चाहिए। शुक्रवार (18 नवंबर) को व्हाइट हाउस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘हम जानते हैं कि कुछ उग्रवादी और आतंकवादी नेटवर्कों से लड़ाई में पाकिस्तान की जनता और सुरक्षा बलों को कई बलिदान देने पड़े हैं। लेकिन राष्ट्रपति बराक ओबामा इस बात पर जोर देते हैं कि पाकिस्तान को अपनी धरती से संचालित आतंकी समूहों के खिलाफ और प्रभावी कदम उठाना चाहिए’।

‘वी द पीपल’ नाम से एक ऑनलाइन अर्जी पर प्रतिक्रिया में उन्होंने कहा, ‘राष्ट्रपति ने साफ तौर पर कहा है कि किसी भी देश को अपने क्षेत्र का आतंकियों द्वारा दूसरे देश में हमले करने के लिए इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं देनी चाहिए।’ इस अर्जी पर 6,65,769 लोगों ने हस्ताक्षर किए हैं। इस अर्जी में ओबामा प्रशासन से पाकिस्तान को आतंकवाद का प्रयोजक देश घाषित करने की मांग की गई है। अमेरिकी प्रतिनिधिसभा में भी इस आशय का बिल पेश किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 19, 2016 2:04 pm

सबरंग