ताज़ा खबर
 

ट्रंप ने कहा- अगर मैं जीता तो E-mail मामले में हिलेरी जाएंगी जेल

डोनाल्ड ट्रंप ने आज कहा कि यदि वह अमेरिकी राष्ट्रपति पद के लिए चुने जाते हैं तो वे डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी हिलेरी क्लिंटन द्वारा विदेश मंत्री रहने के दौरान निजी ईमेल सर्वर का इस्तेमाल करने के मुद्दे पर उनके खिलाफ विशेष जांच शुरू कराएंगे।
Author सेंट लुइस | October 10, 2016 10:28 am

राष्ट्रपति पद के रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप ने आज कहा कि यदि वह अमेरिकी राष्ट्रपति पद के लिए चुने जाते हैं तो वे डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी हिलेरी क्लिंटन द्वारा विदेश मंत्री रहने के दौरान निजी ईमेल सर्वर का इस्तेमाल करने के मुद्दे पर उनके खिलाफ विशेष जांच शुरू कराएंगे। दूसरी प्रेजीडेंशियल बहस के दौरान हिलेरी के साथ तीखी तकरार के बाद ट्रंप ने कहा, ‘‘हम एक विशेष अभियोजक नियुक्त करेंगे और हम इस मामले पर गौर करेंगे। जानते हैं क्यों? ऐसे कई लोग हैं, जिन्होंने आपके किए इस काम का महज पांचवा हिस्सा ही किया होगा और उनकी जिंदगियां तबाह हो गईं। यह शर्म की बात है। ईमानदारी से कहूं, तो आपको खुद पर शर्म आनी चाहिए। हिलेरी ने ट्रंप पर झूठ बोलने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, ‘‘ट्रंप जो कुछ भी कहते हैं, वह झूठ होता है, इसलिए मुझे हैरानी नहीं है।’


इसपर ट्रंप ने कहा, ‘‘ओह, क्या वाकई ऐसा है?’

हिलेरी ने कहा, ‘‘यह बेहद अच्छा है कि हमारे देश का कानून डोनाल्ड ट्रंप जैसे किसी व्यक्ति के हाथ में नहीं है।’ ट्रंप ने एकबार फिर टोकते हुए कहा, ‘‘हां, क्योंकि ऐसा होता, तो तुम जेल में होतीं। ’ ट्रंप ने मांग की कि हिलेरी 33000 ईमेल डिलीट कर देने पर माफी मांगें। हिलेरी पर आरोप है कि उन्होंने वर्ष 2009-2013 के दौरान ओबामा की प्रमुख राजनयिक रहते हुए निजी ईमेल का इस्तेमाल किया और राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डाला। कुल 90 मिनट की बहस में हिलेरी ने जोर देकर कहा कि उन्होंने ईमेल के मुद्दे पर गलती की है और वह इसकी जिम्मेदारी लेती हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग