ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान: जर्जर हो चुका है दिलीप कुमार का पैतृक घर, गिरने की आशंका

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने साल 2015 उनके घर को ‘राष्ट्रीय धरोहर’ घोषित किया था।
Author पेशावर | December 12, 2016 21:53 pm
दिलीप कुमार और उनकी पत्नी सायरा बानो। (फाइल फोटो)

पाकिस्तान के पेशावर में स्थित प्रसिद्ध अभिनेता दिलीप कुमार का पैतृक घर जर्जर हो चुका है और गिरने की कगार पर है। संघीय सरकार ने इमारत को राष्ट्रीय धरोहर घोषित किया हुआ है, इसके बावजूद खैबर पख्तूनख्वा की सरकार ने अब तक इमारत का अधिग्रहण नहीं किया है। यह इमारत पेशावर के किस्सा ख्वानी बाजार में है। स्थानीय लोगों ने दावा किया कि खैबर पख्तूनख्वा ने अब तक उसके स्वामित्व को लेकर चल रहे विवाद का हल नहीं किया है। इमारत एक भीड़भाड़ वाले इलाके में स्थित है जहां जाने का रास्ता छह फुट चौड़ा और 33 फुट लंबा है जिससे लोगों को वहां जाने में दिक्कतें आती हैं।
स्थानीय लोगों ने रविवार (11 दिसंबर) को दिलीप कुमार का 94वां जन्मदिन मनाते हुए कहा कि घर के मालिक एवं पिछली प्रांतीय सरकार के बीच पैसों के लेन देने को लेकर विवाद चल रहा है जबकि मौजूदा सरकार ने घर की खरीद के लिए कोई धनराशि मुहैया नहीं करायी है। स्थानीय लोगों ने केक काटकर और अभिनेता के स्वास्थ्य के लिए दुआ कर उनका जन्मदिन मनाया।

दिलीप कुमार इस समय मुंबई के एक अस्पताल में स्वास्थ्य लाभ कर रहे हैं जहां दायें पैर में सूजन के बाद पिछले हफ्ते मंगलवार को उन्हें भर्ती कराया गया था।
यह समारोह पेशावर प्रेस क्लब में आयोजित किया गया था जहां अभिनेता के प्रशंसक एवं राजनीतिक कार्यकर्ता जमा हुए थे। ‘कल्चरल हेरीटेज काउंसिल’ नाम के एक गैर सरकारी संगठन ने समारोह का आयोजन किया था। उन्होंने कहा कि घर की हालत बेहद जर्जर है और वह कभी भी गिर सकता है। स्थानीय लोगों ने कहा कि खैबर पख्तूनख्वा सरकार ने राष्ट्रीय धरोहर घोषित की जा चुकी संपत्तियों की देखभाल के लिए एक अधिनियम पारित किया है लेकिन उस कानून के तहत अभिनेता के घर का अधिग्रहण नहीं किया गया है। दोनों देशों के लोकप्रिय दिलीप कुमार का जन्म 1922 में पेशावर में हुआ था। ‘ट्रेजेडी किंग’ के नाम से मशहूर 94 साल के अभिनेता को पाकिस्तान ने अपना सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘निशान ए इम्तियाज’ से सम्मानित किया है। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने पिछले साल उनके घर को ‘राष्ट्रीय धरोहर’ घोषित किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.