December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

अमेरिका में मस्जिदों को नफरत भरे खत भेजे, कहा- मुसलमानों की उल्‍टी गिनती शुरू हो गई है

एफबीआई के नए आंकड़ों के अनुसार साल 2015 में मुस्लिम विरोधी घटनाओं में 67 फीसदी का इजाफा हुआ।

Author November 27, 2016 18:23 pm
पिछले कुछ दिनों में कैलिफोर्निया की कई मस्जिदों के पास ये पत्र भेजे गए हैं। (File Photo)

अमेरिका के कैलिफोर्निया राज्‍य में कई मस्जिदों को ऐसे नफरत भरे पत्र मिले हैं जिनमें मुसलमानों के नरसंहार की बात की गई है और नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के तारीफों के पुल बांधे गए हैं। काउंसिल ऑन अमेरिकन-इस्लामिक रिलेशंस (सीएआईआर) ने स्थानीय मस्जिदों के लिए पुलिस सुरक्षा बढ़ाने का आह्वान किया है। पिछले कुछ दिनों में कैलिफोर्निया की कई मस्जिदों के पास ये पत्र भेजे गए हैं। सीएआईआर की लॉस एंजिलिस शाखा ने एक बयान में कहा कि ‘इस्लामिक सेंटर ऑफ लांग बीच’ और ‘इस्लामिक सेंटर ऑफ क्लेयरमांट’ को पत्र भेजे गए हैं।

इसी तरह के पत्र के सैन जोस स्थित ‘एवरग्रीन इस्लामिक सेंटर’ को भी भेजा गया है। ‘लॉस एंजिलिस टाइम्स’ के अनुसार हाथ से लिखे पत्र को ‘शैतान के बच्चों’ को संबोधित किया गया है और मुसलमानों को ‘नीच और गंदा’ करार दिया गया है। सीएआईआर की लॉस एंजिलिस इकाई के अनुसार पत्र में कहा गया है, ‘‘तुम लोगों की उल्टी गिनती शुरू हो गई है।’’ एफबीआई के नए आंकड़ों के अनुसार साल 2015 में मुस्लिम विरोधी घटनाओं में 67 फीसदी का इजाफा हुआ। पिछले साल मुसलमानों के खिलाफ पक्षपात के 257 मामले प्रकाश में आए, जबकि 2014 में ऐसे मामलों की संख्या 154 थी।

गौरतलब है कि डोनाल्‍ड ट्रंप ने चुनाव प्रचार के दौरान मुसलमानों को अमेरिका में घुसने से रोकने का वादा किया था। हालांकि बाद में उन्‍होंने इसे अपने साइट से हटा दिया था। ट्रंप के जीतने के बाद अमेरिका में हिजाब पहनने पर महिलाओं से बदसलूकी दो खबरें आ चुकी हैं। पहली घटना मिनेसोटा के कून रेपिड्स के नॉर्थडले मिडल स्कूल की है। यहां पर एक सहपाठी ने एक मुस्लिम छात्रा का हिजाब कथित तौर पर फाड़ दिया गया और उसके बाल नोच लिए। इसी तरह से न्यू मैक्सिको के एक स्टोर में हिजाब पहनी एक महिला को एक अन्य ग्राहक ने आतंकवादी कहकर संबोधित किया और हिजाब पहनी महिला को देश से बाहर चले जाने को कहा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 27, 2016 6:23 pm

सबरंग