ताज़ा खबर
 

टीवी इंटरव्यू में बोला आतंकी सलाउद्दीन, भारत में कई आतंकी वारदातों को अंजाम दिया है हमने, भारतीय सुरक्षा बलों को निशाना बनाकर करते हैं हमले

इस दौरान सलाउद्दीन ने कश्मीर को अपने घर बताते हुए कहा कि कश्मीर घाटी में बुरहान वानी की मौत के बाद विद्रोह हो रहा है।
आतंकी सलाउद्दीन के इस कबूलनामे से भारत का दावा फिर से पुख्ता हो गया है कि पाकिस्तान की धरती का इस्तेमाल भारत में आंतक फैलाने के लिए किया जा रहा है। (फोटो सोर्स एएनआई)

आतंकी संगठन इंडियन मुजाहिदीन के मुखिया सैयद सलाउद्दीन ने एक टीवी इंटरव्यू में स्वीकार किया है कि उसने भारत में आतंकी हमले करवाए हैं। हाल में अमेरिका द्वारा ग्लोबल आतंकी घोषित किए गए सलाउद्दीन ने पाकिस्तानी टीवी चैनल जियो से कहा, ‘अब तक हमारा ध्यान भारतीय सेना की तरफ था। हमारे मुजाहिदीनों ने भारत में कई आतंकी वारदातों को अंजाम दिया है और कई जारी हैं। इन सभी आतंकी हमलों में हमारा पूरा फोकस भारतीय सुरक्षाबलों पर रहा है।’ वहीं आतंकी सलाउद्दीन के इस कबूलनामे से भारत का दावा फिर से पुख्ता हो गया है कि पाकिस्तान की धरती का इस्तेमाल भारत में आंतक फैलाने के लिए किया जा रहा है। इस दौरान सलाउद्दीन ने कश्मीर को अपने घर बताते हुए कहा कि कश्मीर घाटी में बुरहान वानी की मौत के बाद विद्रोह हो रहा है। दूसरे तरफ बड़ा खुलासा करते हुए सलाउद्दीन ने कहा, ‘भारत में हमारे बहुत सारे समर्थक हैं। हम अंतर्राष्ट्रीय बाजार से हथियार खरीदते हैं। अगर पैसा दिया जाए तो कहीं भी हथियारों की सप्लाई करवा सकता हूं। मैंने भारत में कई वारदातों को अंजाम दिया है। हालांकि 9/11 हमले के बाद हालात बदले हैं।’ बता दें कि इस साल 26 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यात्रा से ठीक पहले सलाउद्दीन को अंतर्राष्ट्रीय आतंकियों की सूची में शामिल किया गया है। दूसरी तरफ सुरक्षा विशेषज्ञों ने अमेरिका के इस कदम को पाकिस्तान के मुंह पर तमाचे की तरह बताया था। वहीं सलाउद्दीन को आतंकी घोषित किए जाने के बाद बौखलाए पाकिस्तान ने इसे नाइंसाफी करार दिया था।

जानकारी के लिए बता दें कि पिछले साल आतंकी सलाउद्दीन ने धमकी दी थी कि कश्मीर समस्या के किसी भी शांतिपूर्ण समाधान को कोशिश को वो कामयाब नहीं होने देगा। इस दौरान उसने कश्मीर में फिदायीन हमलावरों को ट्रेनिंग देने की धमकी भी दी थी। उसने कहा था कि वह कश्मीर को भारतीय सुरक्षा बलों की कब्रगाह बना देगा। 71 साल का आंतकी सलाउद्दीन इस वक्त कश्मीर के कब्जे वाले पाकिस्तान में आराम से रहता है। हिजबुल मुजाहिदीन के अलावा वो यूनाइटेड जिहाद काउंसिल भी चलाता है। पठानकोट आतंकी हमले की जिम्मेदारी भी इसी संगठन ने ली थी। साथ ही अप्रैल 2014 में किए गए जम्मू-कश्मीर आत्मघाती हमले की जिम्मेदारी भी हिजबुल सरगना ले चुका है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.