ताज़ा खबर
 

नाटो और अफगान सेना के लिए खुले बाजार में बिक रहा है टैक्स फ्री ईंधन

इस बात का खुलासा उद्योग के अधिकारियों और एक नयी भ्रष्टाचार विरोधी रिपोर्ट से हुआ है।
Author काबुल | September 5, 2016 17:21 pm
कर मुक्त सैन्य ईंधन (Source: Reuters photo)

अफगानिस्तान के सुरक्षा बलों और नाटो के लिए आयातित कर मुक्त सैन्य ईंधन की बिक्री अफगानिस्तान के खुल बाजारों में धड़ल्ले से हो रही है। इस बात का खुलासा उद्योग के अधिकारियों और एक नयी भ्रष्टाचार विरोधी रिपोर्ट से हुआ है। इसके कारण सरकार को भारी राजस्व का नुकसान उठाना पड़ रहा है। एएफपी टीम को उस वक्त इसके बारे में सबूत मिले जब पिछले सप्ताह एक अफगान ईंधन अधिकारी ने काबुल के तेल डिपो पर छापा मारा। इस छापे में यह बात निकल कर सामने आयी कि नाटो और स्थानीय बलों के लिए उपयोग होने वाले कर मुक्त ईंधन की बिक्री खुले बाजार में हो रही है।

अधिकारी ने छापे में ड्राइवरों से सीमा शुल्क दस्तावेजों की जानकारी मांगी गयी जांच ताकि भ्रष्टाचार का पता लगाया जा सके। एक ड्राइवर के पास से कर मुक्त ‘माफीनामा’ प्रमाणपत्र मिले। इस प्रमाणपत्र से एक टन ईंधन पर करीब 200 अमेरिकी डॉलर की बचत हो जाती है। दस्तावेज में यह पाया गया कि ईंधन तुर्कमेनिस्तान से अफगान गृह मंत्रालय के नाम आयातित था। सरकार और नाटो के बीच हुए सुरक्षा समझौते के मुताबिक केवल विदेशी सुरक्षा बलों और देश के पुलिस और अफगानी सुरक्षा बलों के लिए आयात होने वाले ईंधन पर सीमा शुल्क नहीं लगेगा।

अधिकारी को यह जानकर आश्चर्य हुआ कि सुरक्षा कार्यों के लिए निर्धारित ईंधन खुले बाजार में कैसे मिल रहा है। अधिकारी ने प्रमाणपत्रों के फोटो खींच लिए हैं और जांच की प्रतिबद्धता जतायी है। नाम नहीं बताने के शर्त पर अधिकारी ने एएफपी को जांच के दौरान साथ रहने की इजाजत दे दी है। पर्यवेक्षकों का कहना है कि युद्ध से बुरी तरह तबाह हुए अफगानिस्तान के पुनर्निर्माण में ईंधन सबसे महत्वपूर्ण है और भ्रष्टाचार के कारण इसके चोरी और तस्करी का खतरा अधिक है।

पिछले साल अंतरराष्ट्रीय वित्त पोषित एक लाख टन से ज्यादा ईंधन अफगानिस्तान में आयात किया गया था। संयुक्त भ्रष्टाचार निरोधक निगरानी और मूल्यांकन समिति (एमइसी) की रिपोर्ट के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय बलों के लिए सीमा शुल्क में छूट का दुरच्च्पयोग व्यापारियों की आरे से काफी किया गया है। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले साल 20 कंपनियों को कर मुक्त प्रमाण पत्र जारी किए गए थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग