ताज़ा खबर
 

अफगानिस्तान में आत्मघाती हमला, नाटो के छह सैनिक मारे गए

नाटो ने कहा है कि अफगानिस्तान के बगराम एयरफील्ड के पास एक आत्मघाती हमले में उसके छह सैनिक मारे गए हैं..
Author कंधार | December 21, 2015 23:16 pm
(पीटीआई ग्राफिक्स)

नाटो ने कहा है कि अफगानिस्तान के बगराम एयरफील्ड के पास एक आत्मघाती हमले में उसके छह सैनिक मारे गए हैं। दूसरी ओर अफगान सुरक्षा बलों ने एक ऐसे व्यक्ति को गिरफ्तार किया है जो आत्मघाती हमलावर बनकर जलालाबाद के भारतीय दूतावास पर हमला करने की योजना पर काम करने वाला था।

अफगान राजधानी काबुल में नाटो रिजोल्यूट सपोर्ट बेस में सार्वजनिक मामलों के प्रमुख ब्रिगेडियर जनरल विलियम शोफनर ने सोमवार को कहा कि बगराम फील्ड के पास हुए हमले में तीन विदेशी सैनिक घायल भी हुए हैं। उन्होंने बताया कि हमला स्थानीय समयानुसार अपराह्न करीब डेढ़ बजे बेस के पास हुआ, जो अफगानिस्तान में सबसे बड़ा अमेरिकी सैन्य ठिकाना है। तालिबान ने समाचार एजेंसी को भेजे ईमेल में इस हमले की जिम्मेदारी ली है। नीतिगत निर्णयों के चलते नाटो ने मारे गये लोगों की राष्ट्रीयता जाहिर नहीं की है।

दूसरी ओर अफगान सुरक्षा बलों ने आत्मघाती हमलावर बन सकने वाले एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया और अफगानिस्तान के जलालाबाद शहर में भारतीय दूतावास पर हमले की उसकी योजना नाकाम कर दी। एक हफ्ते में इस तरह की यह दूसरी घटना है। अफगानिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय के अधिकारियों के हवाले से सोमवार को कहा गया कि सुरक्षा बलों ने रविवार इस व्यक्ति को गिरफ्तार किया जो पूर्वी नंगरहार प्रांत की राजधानी जलालाबाद में भारतीय वाणिज्य दूतावास पर हमले की योजना बना रहा था।

प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता अताउल्ला लुदीन ने बताया कि संदिग्ध हमलावर की पहचान नासिर के रूप में की गई है, जो उत्तर पूर्व कपीसा प्रांत के तगाब जिले का निवासी है। उन्होंने बताया कि नासिर हाल ही में तालिबान में शामिल हुआ था और उसने पूछताछ के दौरान साजिश को कबूल कर लिया। इस घटना पर तालिबान से कोई टिप्पणी नहीं आई है।

गौरतलब है कि पिछले हफ्ते सुरक्षाकर्मियों ने दो आइएसआइएस आतंकवादियों को गिरफ्तार किया था जिन्होंने जलालाबाद शहर में वाहनों पर हमले की योजना बनाई थी। अता उर रहमान के रूप में पहचाने गए शख्स ने बताया कि उन लोगों को भारतीय दूतावास के वाहनों को निशाना बना कर सड़क पर बारूदी सुरंगें बिछाने को कहा गया था।
संदिग्धों को जहां पकड़ा गया था उसके करीब ही भारतीय दूतावास स्थित है। इन गिरफ्तारियों पर टिप्पणी करत हुए नई दिल्ली में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा कि एक बार फिर से अफगानिस्तान की सुरक्षा स्थिति उजागर हुई है और ऐसी कोशिशों के खिलाफ सदा सतर्क रहने की जरूरत है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.