ताज़ा खबर
 

पेरिस हमले के ‘मास्‍टरमाइंड’ की जनवरी में हुई थी बेल्जियम पुलिस से मुठभेड़, जानिए, अब्देलहामिद से जुड़ी बातें

फ्रेंच पुलिस ने खुलासा किया है कि अप्रैल में पेरिस के चर्च पर हुए नाकाम हमले और अगस्‍त में हाई स्‍पीड ट्रेन पर हमले की साजिश के तार भी अब्देलहामिद से जुड़ते दिख रहे हैं। सूत्रों के अनुसार, वह IS के लिए लगातार भर्तियां कर रहा था।
इस्‍लामिक इस्‍टेट की मैगजीन Dabiq में छपा पेरिस हमले के मास्टरमाइंड अब्देलहामिद अबाउद का फोटो। यह तस्‍वीर फरवरी की है, जब अब्देलहामिद सीरिया में था।

फ्रेंच पुलिस ने पेरिस हमले के संदिग्‍ध मास्‍टरमाइंड की पहचान 27 वर्षीय अब्देलहामिद अबाउद के रूप में की है। मोरक्‍को मूल का यह संदिग्‍ध आतंकी बेल्जियम का नागरिक बताया जा रहा है। फ्रांस के RTL radio ने दावा किया है कि अब्देलहामिद IS के बेहद शातिर आतंकियों में एक है। आतंकी गतिविधियों में पहली बार इसका नाम जनवरी 2015 में सामने आया था। उस वक्‍त बेल्जियम के पूर्वी क्षेत्र में IS आतंकियों के ठिकाने पर रेड मार गई थी। ऐसा कहा जाता है कि वहां अब्देलहामिद भी मौजूद था और पुलिस के साथ उसकी मुठभेड़ में भी हुई थी। उस ऑपरेशन में IS दो संदिग्‍ध आतंकी मारे गए थे। बेल्जियम पुलिस को खबर मिली थी कि IS का स्‍लीपर सेल उनके वरिष्‍ठ अधिकारी की हत्‍या करने की साजिश रच रहा है, जिसके बाद उन्‍होंने ऑपरेशन चलाया था।

ब्रिटिश अखबार ‘द गार्डियन’ ने दावा किया है कि अब्देलहामिद सीरिया में जंग भी लड़ चुका है। सुरक्षा एजेंसियों को उसके बारे में पहली बार तब पता चला, जब वह IS के एक वीडियो में दिखाई दिया। इसके बाद अब्देलहामिद की कोई खोज-खबर नहीं मिली। किसी को नहीं पता था कि वह कहां है? क्‍या कर रहा है? इसी बीच उसका नाम पेरिस हमलों के संदिग्‍ध मास्‍टरमाइंड के तौर पर सामने आया है। बेल्जियम के जस्टिस मिनिस्‍टर कोइन ग्रीन्‍स ने बताया, ‘जनवरी में जब हमने रेड मारी थी, उसमें तब सही आदमी (अब्देलहामिद) को नहीं पकड़ पाए थे, लेकिन कोशिश जारी है और हमें पूरी उम्‍मीद है कि सफलता मिलेगी।’

फ्रेंच पुलिस ने खुलासा किया है कि अप्रैल में पेरिस के चर्च पर हुए नाकाम हमले और अगस्‍त में हाई स्‍पीड ट्रेन पर हमले की साजिश के तार भी अब्देलहामिद से जुड़ते दिख रहे हैं। सूत्रों के अनुसार, वह IS के लिए लगातार भर्तियां कर रहा था। खासतौर से पश्चिमी देशों में युवाओं को IS से जोड़ने की जिम्‍मेदारी उसी को दी गई। अब्देलहामिद ने अपने 13 साल के भाई को भी IS में भर्ती करा दिया था। फ्रेंच अखबार लिबरेशन ने दावा किया है कि वह सिड अहमद घलाम के भी संपर्क में था। घलाम पर फ्रांस में हत्‍या और आतंकी गतिविधियों में लिप्‍त होने का आरोप है। अब्देलहामिद के घर से मिले दस्‍तावेजों और कम्‍प्‍यूटर से मिल जानकारी से इस बात के सबूत मिले हैं कि ये दोनों संपर्क में थे। घलाम सीरिया में किसी ऐसे शख्‍स के संपर्क में था, जो कि फ्रेंच बोलता था। माना जाता है कि चर्च पर हुए नाकाम हमले के पीछे इसी का हाथ था।

दूसरी ओर VTM चैनल की रिपोर्ट में सामने आया है कि 2015 की शुरुआत में अब्देलहामिद ने ग्रीस से कुछ कॉल्‍स किए थे। ये फोन उन दो संदिग्‍धों में से किसी एक के भाई को किए गए थे, जो बेल्जियम रेड में मारे गए थे। इसके अलावा पेरिस हमले के संदिग्‍ध मास्‍टरमाइंड ने फरवरी में इस्‍लामिक स्‍टेट की मैगजीन Dabiq को इंटरव्‍यू भी दिया था। इसमें उसने कहा था, ‘मैं पश्चिमी देशों में हमले कर सकता हूं, वो भी बेल्जियम की खुफिया एजेंसी की नाक के नीचे।’ यह इंटरव्‍यू उसने फरवरी 2015 में दिया था। अब्देलहामिद का एक नाम अबु उमर अल बाल्जिकी भी है। Dabiq में इसी नाम से उसका इंटरव्‍यू छपा था। इंटरव्‍यू में उसने कहा, ‘हमें अपने मकसद में कई समस्‍याओं का सामना करना पड़ा। यूरोप में हमने कई महीने बिताए और अल्‍लाह की मर्जी से अब जाकर हमें सफलता मिली और हमने बेल्जियम में राह मिल गई।’

 Abdelhamid Abaaoud, Paris attacks mastermind, Belgian national, Moroccan origin, gun battle, suspected Isis cell, alleged mastermind, Paris attacks, Islamic State cell, French officials, suicide bomb attacks, Abu Umar al-Baljiki, Paris news, paris attacks news, terrorism, terror, IS, पेरिस हमले, इस्‍लामिक स्‍टेट, आईएस, संदिग्‍ध मास्‍टरमाइंड, अब्देलहामिद अबाउद, आतंकी हमले, बेल्जिमय पुलिस, अब्देलहामिद, आतंकी, आईएसआईएस, हमलों का मास्‍टरमाइंड अब्देलहामिद का एक नाम अबु उमर अल बाल्जिकी भी है। Dabiq में इसी नाम से उसका इंटरव्‍यू छपा था।

Read Also :

पेरिस हमले का बदला: फ्रांस ने IS ठिकानों पर की भीषण बमबारी, आतंकी संगठन ने दी और हमलों की धमकी

स्‍पेनिश अखबार ने NRI सिख को बताया पेरिस हमले का आतंकी, फोटोशॉप से iPad की जगह थमा दी कुरान

पेरिस हमले: आतंकियों ने व्‍हीलचेयर पर बैठे लोगों को भी काट डाला

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.