January 18, 2017

ताज़ा खबर

 

सऊदी अरब में राजकुमार को ही दे दी फांसी, किया था दोस्त का मर्डर

अरब न्यूज के अनुसार हत्या करने वाले प्रिंस को जब इस बात का अहसास हुआ कि मारा गया व्यक्ति उसका दोस्त है तो उसने पुलिस को सूचित किया।

चित्र का इस्तेमाल सिर्फ प्रतीक के तौर पर किया गया है।

सऊदी अरब के एक राजकुमार को मंगलवार (18 अक्टूबर) को हत्या के मामले में मौत की सजा दे दी गई। देश के गृह मंत्री के अनुसार प्रिंस तुर्की बिन सऊद अल-कबीर को राजधानी रियाद में सऊदी नागरिक आदिल अल-माहेमिद को झगड़े के बाद गोली मारने के लिए ये सजा दी गई। सऊदी अरब में सऊद परिवार का शासन है। परिवार में करीब हजारों राजकुमार हैं। समाचार एजेंसी एएफपी के कबीर समेत इस साल सऊदी अरब कुल 134 हत्याएं हो चुकी हैं। मारे जाने वालों में स्थानीय और विदेशी नागरिक शामिल हैं।

अरब न्यूज ने नवंबर 2014 में खबर दी थी कि रियाद की एक एक अदालत ने किसी प्रिंस को अपने दोस्त की हत्या के लिए मौत की सजा सुनाई गई है। अखबार की रिपोर्ट के अनुसार उस रियाद के बाहरी इलाके में किसी कैंप में हुई झड़प में एक व्यक्ति घायल भी हो गया था। रेगिस्तानी कैंप सऊदी नागिरोकों में काफी लोकप्रिय हैं। अरब न्यूज के अनुसार हत्या करने वाले प्रिंस को जब इस बात का अहसास हुआ कि मारा गया व्यक्ति उसका दोस्त है तो उसने पुलिस को सूचित किया। मारे गए व्यक्ति के अंकल अब्दुल रहमान अल-फलाज ने अरब न्यूज ने कहा कि ये फैसला देश की “निष्पक्ष न्याय प्रणाली” का प्रमाण है।

वीडियो: देखिए पिछले 24 घंटे की बड़ी खबरें-

सऊदी अरब में शरिया कानून लागू है जिसमें हत्या, नशे की तस्करी, डकैती, बलात्कार और ईशनिंदा के लिए मौत की सजा देने का प्रावधान है। हालांकि पिछले कुछ सालों में सऊदी अरब में नागरिक अधिकारों और महिला अधिकारों को लेकर सवाल भी उठाए जाते रहे हैं। खास तौर पर कुछ महिलाएं शरिया कानून भेदभाव वाली बताती रही हैं। सऊदी अरब में सोशल मीडिया के इस्तेमाल को लेकर भी काफी मतभेद है। एक वर्ग इसे इस्लाम के खिलाफ बताता है तो दूसरा धड़ा इसे उचित मानता है।

Read Also: अमेरिकी युवती से ऑनलाइन फ्लर्ट करने पर सऊदी अरब के किशोर को जेल, ललचाने वाले वीडियो बनाने का आरोप

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 19, 2016 11:32 am

सबरंग