December 11, 2016

ताज़ा खबर

 

जेल में कैद सऊदी अरब के राजकुमार को लगाए गए कोड़े, 15 दिन पहले एक अन्‍य को दी गई थी सजा ए मौत

सऊदी अरब के एक राजकुमार पर कोर्ट के आदेश के बाद जेद्दा जेल में कोड़े लगाए गए। एक सऊदी न्‍यूजपेपर ने बुधवार को यह खबर दी।

(प्रतिकात्मक फोटो)

सऊदी अरब के एक राजकुमार पर कोर्ट के आदेश के बाद जेद्दा जेल में कोड़े लगाए गए। एक सऊदी न्‍यूजपेपर ने बुधवार को यह खबर दी। इसमें यह नहीं बताया गया कि राजकुमार को किस अपराध के चलते यह सजा दी गई। लेकिन कहा गया है कि दोषी राजकुमार को कैद की सजा भी सुनाई गई है। राजकुमार को मेडिकल जांच के बाद सोमवार को एक पुलिसकर्मी ने कोड़े लगाए। बता दें कि लगभग 15 दिन पहले ही एक अन्‍य राजकुमार को हत्‍या के आरोप में मौत की सजा दी गई थी। सऊदी अरब में वहाबी सुन्‍नी मुस्लिम नियमों का कड़ाई से पालन किया जाता है। यहां पर कानून कायदों पर मौलवियों का दबदबा है।

19 अक्‍टूबर को एक सऊदी राजकुमार को रियाद में मौत की सजा दी गई थी। राजकुमार तुर्की बिन सउद अल कबीर को एक सऊदी व्‍यक्ति को मारने का दोषी पाया गया था। सऊदी अरब के मीडिया के अनुसार 1970 के बाद पहली बार किसी राजकुमार को मौत की सजा दी गई। सऊदी अरब के सोशल मीडिया यूजर्स ने इस घटना को समानता के प्रतीक के रूप में बताया था। मारे गए व्यक्ति के अंकल अब्दुल रहमान अल-फलाज ने अरब न्यूज ने कहा कि ये फैसला देश की “निष्पक्ष न्याय प्रणाली” का प्रमाण है।

चार साल की बच्‍ची का तांत्रिक ने काटा सिर, देखें वीडियो:

सऊदी अरब में शरिया कानून लागू है जिसमें हत्या, नशे की तस्करी, डकैती, बलात्कार और ईशनिंदा के लिए मौत की सजा देने का प्रावधान है। हालांकि पिछले कुछ सालों में सऊदी अरब में नागरिक अधिकारों और महिला अधिकारों को लेकर सवाल भी उठाए जाते रहे हैं। खास तौर पर कुछ महिलाएं शरिया कानून भेदभाव वाली बताती रही हैं।

सऊदी अरब में सोशल मीडिया के इस्तेमाल को लेकर भी काफी मतभेद है। एक वर्ग इसे इस्लाम के खिलाफ बताता है तो दूसरा धड़ा इसे उचित मानता है। सोशल मीडिया से जुड़े एक मामले में ही एक सऊदी किशोर को जेल में डाल दिया गया। उस पर एक अमेरिकी महिला से ऑनलाइन फ्लर्ट करने का आरोप है। किशोर को पांच साल जेल और आठ लाख डॉलर के जुर्माने की सजा हो सकती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 2, 2016 2:22 pm

सबरंग