December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद से रूस हुआ बाहर, क्रोएशिया-हंगरी ने वोटिंग में हराया

भारत 47 सदस्यीय मानवाधिकार निकाय का सदस्य है और उसका कार्यकाल 2017 में खत्म होगा।

Author संयुक्त राष्ट्र | October 29, 2016 14:33 pm
रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन। (एपी फाइल फोटो)

सीरिया में अपनी नीतियों के संबंध में युद्ध अपराध के आरोपों का सामना कर रहे रूस को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में अपनी सीट गंवानी पड़ी है। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने जिनीवा स्थित संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद के 14 सदस्यों के चुनाव के लिए शुक्रवार (28 अक्टूबर) को मतदान कराया था। 193-सदस्यीय महासभा ने मानवाधिकार परिषद के लिए गुप्त मतदान द्वारा 14 राष्ट्रों का शुक्रवार को चुनाव किया था। संयुक्त राष्ट्र की यह संस्था पूरे विश्व में सभी मानव अधिकारों को बढ़ावा देने और उनके संरक्षण के लिए जिम्मेदार है।

ब्राजील, चीन, क्रोएशिया, क्यूबा, मिस्र, हंगरी, इराक, जापान, रवांडा, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, ट्यूनीशिया, ब्रिटेन और अमेरिका को एक जनवरी, 2017 से तीन वर्ष के लिए संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद का सदस्य चुना गया है। भारत 47 सदस्यीय मानवाधिकार निकाय का सदस्य है और उसका कार्यकाल 2017 में खत्म होगा। रूस दोबारा इस निकाय का सदस्य बनना चाहता था और पूर्वी यूरोप ब्लॉक की दो सीटों के लिए उसका मुकाबला हंगरी, क्रोएशिया और बुल्गारिया से था। मतदान में रूस को 112 वोट, क्रोएशिया को 114 वोट और हंगरी को 144 वोट मिले।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 29, 2016 2:33 pm

सबरंग