March 29, 2017

ताज़ा खबर

 

पाकिस्‍तान को आतंकवाद प्रायोजक देश घोषित करने वाली याचिका ने अमेरिका में तोड़ा समर्थन का रिकॉर्ड

पाकिस्तान के खिलाफ यह याचिका एक व्यक्ति ने 21 सितम्बर को तैयार की थी।

पाकिस्‍तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और अमेरिकी राष्‍ट्रपति बराक ओबामा।

भारत और पाकिस्तान के बीच का मौजूदा तनाव अब व्हाइट हाउस के साइबर क्षेत्र में पहुंच गया है जहां दोनोें देशों ने याचिकाएं दायर की हैं और ओबामा प्रशासन से जवाब मांगा है। व्हाइट हाउस ने उस याचिका पर हस्ताक्षर स्वीकार करना बंद कर दिया है, जिसमें ‘पाकिस्तान को ‘आतंकवाद प्रायोजक देश’ घोषित करने की मांग की गई है। इस याचिका पर कुछ दिनों के भीतर रिकॉर्ड पांच लाख हस्ताक्षर आ गए थे जो ओबामा प्रशासन से जवाब हासिल करने के लिए हस्ताक्षरों की जरूरी संख्या से पांच गुना अधिक है। उधर, व्हाइट हाउस की वेबसाइट पर एक और याचिका दी गई है जिसमें दावा किया गया है कि भारत ‘अपने पड़ोसी देशों में आतंकवाद फैलाने में शामिल है।’ व्हाइट हाउस ने कल कहा कि पाकिस्तान के खिलाफ दायर याचिका को संग्रहित कर दिया गया है क्योंकि इसने हस्ताक्षर संबंधी जरूरतों’ को पूरा नहीं किया। याचिका पन्ने पर इसके बारे में ‘क्लोज्ड पीटिशन’ लिखा है। इस याचिका पर रोक लगाने को लेकर व्हाइट हाउस ने कोई ब्यौरा नहीं दिया। आमतौर पर इस तरह की याचिका पर हस्ताक्षर करने का विकल्प एक महीने तक उपलब्ध रहता है। हालांकि ऐसा लगता है कि कुछ हस्ताक्षरों ने भागीदारी की शर्तों को पूरा नहीं किया होगा, जिसके बाद इस पर रोक लगाई गई।

आतंकवादियों ने जम्‍मू-कश्‍मीर में छीनी रायफलें, देखें वीडियो: 

पाकिस्तान के खिलाफ यह याचिका एक व्यक्ति ने 21 सितम्बर को तैयार की थी। उसने अपनी पहचान आरजी बताई थी। याचिका पर व्हाइट हाउस के जवाब के लिए 30 दिनों में एक लाख हस्ताक्षर की जरूरत थी, लेकिन यह आंकड़ा एक सप्ताह के भीतर ही पूरा हो गया। उरी आतंकी हमले के बाद भारतीय सेना की ओर से पीओके में आतंकी ठिकानों पर किए गए लक्षित हमलों के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया है।

READ ALSO: उमा भारती ने कहा- जिन्‍हें सेना की सर्जिकल स्‍ट्राइक के सबूत चाहिए, वे पाकिस्‍तान जाकर बस जाएं

पाकिस्‍तान सर्जिकल स्‍ट्राइक से इनकार कर रहा है। पाकिस्तानी सेना पत्रकारों के एक समूह को नियंत्रण रेखा के निकट के स्थानों पर ले गई और वहां की स्थिति के बारे में उनको बताया। दोनों देशों के बीच बढ़े तनाव के बीच नियंत्रण रेखा पर मौजूद पाकिस्तानी सैन्य अधिकारियों ने कहा कि उनकी सीमा के भीतर किसी तरह की कार्रवाई असंभव है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 4, 2016 7:23 pm

  1. No Comments.

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग