December 06, 2016

ताज़ा खबर

 

पाकिस्तानी सेना के टॉप कमांडर ने किया दावा: हमसे दोगुने मारे गए भारतीय सेना के जवान

इकबाल ने दावा किया कि सैन्यकर्मियों की मौत का आंकड़ा बढ़ने के साथ ही विरोधी पक्ष के लिए संघर्षविराम का उल्लंघन करना महंगा सौदा बनता जा रहा है।

जम्मू से करीब 75 किमी दूर पालनवाल सेक्टर में अत्यधिक गश्त वाली जगह कश्मीर को भारत और पाकिस्तान के बीच बांटने वाली नियंत्रण रेखा, पर पेट्रोलिंग करते सेना के जवान। (पीटीआई फोटो/4 अक्टूबर, 2016)

पाकिस्तान के एक आला सैन्य कमांडर ने दावा किया कि नियंत्रण रेखा पर जारी झड़पों में पाकिस्तान के मुकाबले भारतीय सेना के जवान दोगुनी संख्या में मारे गए हैं। गिलगित में शुक्रवार को चुनिंदा सांसदों और संवाददाताओं के समूह से 10वीं पलटन के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल मलिक जफर इकबाल ने कहा, ‘हमारे केवल 20 सैनिक मारे गए जबकि उन्होंने 40 से ज्यादा जवानों को खोया है।’ एक्सप्रेस ट्रिब्यून के मुताबिक इकबाल उत्तर के रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण गिलगित-बल्टिस्तान क्षेत्र के दौरे पर थे जहां उन्होंने नागरिक समाज के लोगों और सैन्य अधिकारियों को संबोधित किया।

इकबाल ने दावा किया कि सैन्यकर्मियों की मौत का आंकड़ा बढ़ने के साथ ही विरोधी पक्ष के लिए संघर्षविराम का उल्लंघन करना महंगा सौदा बनता जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘अगर वे दिन के दौरान संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हैं तो हम इसका बदला शाम से पहले ही ले लेते हैं लेकिन अगर वे ऐसा रात के समय ऐसा करते हैं तो हम सूरज उगने से पहले ही इसका माकूल जवाब देते हैं।’ इससे पहले पाकिस्तान के सैन्य प्रमुख जनरल राहिल शरीफ ने दावा किया था कि नियंत्रण रेखा पर हाल में हुई झड़पों में भारतीय सेना के कम से कम 40 जवान मारे गए हैं। उन्होंने आरोप लगाया था कि भारतीय सेना जनता की नाराजगी के डर से अपनी क्षति को छिपा रही है। उन्होंने दावा किया कि भारत ने अपने खुफिया ढांचे के भीतर विशेष खंड स्थापित किया है जिसका काम सीपीईसी में अवरोध उत्पन्न करना है। इकबाल ने कहा, ‘लेकिन हम दुश्मन के गंदे इरादों को नाकाम करने के लिए तैयार हैं।’

18 सितंबर को पाकिस्तानी आतंकियों ने कश्मीर के उरी सेक्टर में सेना के एक कैंप पर हमला कर दिया था। इसमें भारतीय सेना के कुल 20 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद भारतीय सेना ने 29 सितंबर को एलओसी पार करके पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक किया था। सर्जिकल स्ट्राइक में पीओके स्थित कई आतंकी ठिकानों को ध्वस्त कर दिया था। इसके बाद से पाकिस्तानी सेना ने 50 से ज्यादा बार सीजफायर का उल्लंघन किया है। सीमा पर सीजफायर के उल्लंघन में भारतीय सेना के कई जवान शहीद हो गए हैं। वहीं पाकिस्तानी सेना के भी कई जवान मारे गए। हालांकि, पाकिस्तानी सेना का दावा है कि भारत की तुलना में उनका नुकसान कम हुआ है। पाकिस्तानी सेना ने भारतीय सेना द्वाार सर्जिकल स्ट्राइक किए जाने के दावे का भी खंडन किया था। पाकिस्तानी सेना ने कहा था कि भारतीय सेना ने पीओके में किसी तरह का कोई सर्जिकल स्ट्राइक नहीं किया, केवल दोनों पक्षों में झड़प हुई थी, जिसमें पाकिस्तानी सेना के दो जवान मारे गए थे।

वीडियो में देखें- उल्फा के आतंकियों के साथ मुठभेड़ में 3 जवान शहीद

वीडियो में देखें - ₹ 2000 और 500 के नए नोट में चलता है PM मोदी का भाषण !

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 19, 2016 4:18 pm

सबरंग