ताज़ा खबर
 

एलओसी पार करने के लिए पाकिस्तान हर आतंकवादी को दे रहा 1 करोड़ रुपए: पीओके नेता का दावा

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक पाकिस्तान इस साल एलओसी और अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर 440 से भी ज्यादा बार सीजफायर का उल्लंघन कर चुका है।
मुजफ्फराबाद में बोलके पीओके नेता सरदार रईस इंकलाबी। (Photo: ANI)

पाकिस्तान लगातार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर यह दलील देता रहा है कि वह आतंकवाद की बढ़ावा नहीं देता है। हालांकि सोमवार को पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) स्थित जम्मू एंड कश्मीर अमन फोरम के नेता सरदार रईस इंकलाबी ने पड़ोसी मुल्क के इस दावे को पूरी तरह से खारिज किया है। पीओके नेता रईस इंकलाबी ने कहा कि पाकिस्तान हर आतंकवादी को एलओसी पार करने के लिए एक करोड़ की रकम दे रहा है। इंकलाबी ने एक जनसभा में कहा, “आप (पाकिस्तान) किराए पर हत्यारे रख रहे हैं, आप उन्हें एक करोड़ रुपए देते हैं और सुसाइड बॉम्ब बनाकर एलओसी पार कराते हैं। यह सरहद पर तनाव की वजह है। हम इस आतंकवाद की निंदा करते हैं। अगर आप फायरिंग का इतना ही शौक है तो सेना से युद्ध करो।”

आतंकवादी संगठनों को पाकिस्तानी सपोर्ट पर सवाल उठाते हुए रईस इंकलाबी ने पूछा, “नेशनल एक्शन प्लान के मुताबिक जो आतंकवादी समूह पाकिस्तान में प्रतिबंधित हैं उन्हें पीओके में रहने और पनपने की सुविधा क्यों दी जा रही है? हम इस्लामाबाद से इन्हें पूरी तरह खत्म करने की अपील करते हैं।” सरकारी आंकड़ों के मुताबिक पाकिस्तान इस साल एलओसी और अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर 440 से भी ज्यादा बार सीजफायर का उल्लंघन कर चुका है।

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को पाकिस्तान पर जमकर हमला बोला। शहीदी दिवस पर आयोजित एक कार्यक्रम में गृहमंत्री ने कहा कि अब पाकिस्तान भी समझ चुका है कि वह भारत को सीधे पराजित नहीं कर सकता। जम्मू के कठुआ में आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि अगर पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आया तो उसके 10 टुकड़े हो जाएंगे। गृहमंत्री ने कहा, ‘कैसी हुकूमत है जिसमें लोग अपने आपको डरा हुआ महसूस करें। पाकिस्तान समझता है कि वह मजहब के आधार पर हमें बांट देगा, लेकिन ऐसा संभव नहीं है।’

यूपी में मूर्ति विसर्जन के दौरान डूबे पांच लोग, कैमरे में कैद हुआ हादसा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.