ताज़ा खबर
 

भारत की टेंशन! चोरी हो सकते हैं पाकिस्तान के न्यूक्लियर हथियार!

रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान अपने परमाणु हथियारों में गुणात्मक और मात्रात्मक सुधार कर रहा है।
पाकिस्तान का शाहीन-II मिसाइल परमाणु हमला करने में सक्षम है (फोटो- एपी)

पाकिस्तान ने अपने परमाणु हथियार देश के नौ अलग अलग भागों में छुपा कर रखे हैं। लेकिन फिलहाल पाक के साथ न्यूक्लियर वार की स्थिति ना होने पर भी भारत इन पाकिस्तानी परमाणु बमों को लेकर चिंतित है। दरअसल भारत को इस बात की चिंता है कि पाकिस्तान के न्यूक्लियर हथियार पाकिस्तानी आतंकवादियों के हाथ लग सकते हैं। ये आतंकी इन हथियारों का इस्तेमाल भारत के खिलाफ कर सकते हैं। दूसरी चिंता ये है कि पाकिस्तान के दावे के विपरित वहां के परमाणु बम प्रोफेशनल मेंटेंनेंस के अभाव में दुर्घटना का शिकार हो सकते हैं। इसका भी खमियाजा भारत को भुगतना पड़ सकता है। फेडरेशन ऑफ अमेरिकन साइंस्टिस्ट (FAS) की एक रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान ने करीब करीब नौ ठिकानों पर परमाणु बमों को छिपाकर रखा है। टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका के जाने-माने परमाणु हथियार विशेषज्ञ और इस रिपोर्ट को तैयार करने वाले हैंस क्रिसटेंसन ने कहा है कि पाकिस्तान के परमाणु अस्त्र उन बेस पर रखे हुए हैं जहां पर इन परमाणु बमों को छोड़ने के लिए लॉन्चर भी मौजूद है। इसका मतलब है कि जरूरत पड़ने पर तुरंत इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

क्रिसटेंसन ने टीओआई को बताया कि पाकिस्तान लंबी दूरी तक मार करने वाले हथियारों के अलावा कम दूरी तक प्रहार करने वाले हथियार भी बना रहा है। कम दूरी तक मार करने वाले इन परमाणु सक्षम मिसाइलों को रिजनल स्टोरेज साइट को भेजा जा सकता है। जहां पर इन हथियारों को लॉन्च करने के लिए एंसेम्बल करने के बाद लॉन्चिंग साइट पर भेजा जा सकता है। ट्रम्प प्रशासन के एक अधिकारी ने पिछले महीने कहा कि अमेरिका की चिंता विशेषकर पाकिस्तान द्वारा रणनीतिक परमाणु हथियारों को लेकर है। पहले इन हथियारों का निर्माण युद्ध जैसी परिस्थितियों के लिए किया गया था। लेकिन इनके इस्तेमाल को लेकर पाकिस्तान की मंशा बदल रही है। अमेरिका को लगता है कि इन हथियारों के चोरी होने और बेचे जाने की संभावना ज्यादा है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान अपने परमाणु हथियारों में गुणात्मक और मात्रात्मक सुधार कर रहा है। साथ ही पाक देश के अलग अलग इलाकों में इसकी तैनाती कर रहा है। हालांकि इन स्थानों की पहचान कर पाना मुश्किल है। रिपोर्ट के मुताबिक, ‘पाकिस्तान अपने परमाणु अस्त्र कहां रखता है और कहां बनाता है इसकी कोई विश्वसनीय जानकारी नहीं है। इसलिए हमने कमर्शियल सैटेलाइट इमेज, विशेषज्ञों के अध्ययन, स्थानीय समाचार पत्रों और आर्टिकल्स के आधार पर ये सारी जानकारियां उपलब्ध की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग