ताज़ा खबर
 

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने ताजा लिस्ट में पाकिस्तान को बताया दुनिया का चौथा सबसे खतरनाक देश

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की सुरक्षित देशों की लिस्ट में फिनलैंड सबसे ऊपर है।
पाकिस्तान का झंडा पकड़े हुए एक युवक। (तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।)

भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान का नाम विश्व के असुरक्षित देशों में चौथे नंबर पर है। वर्ल्क इकोनॉमिक फोरम की ट्रेवल एंड टूरिज्म की रिपोर्ट में विश्व के सुरक्षित और असुरक्षित देशों के बारे में बताया गया है। असुरक्षित देशों की लिस्ट में नाइजीरिया का नाम सबसे ऊपर है। इसके बाद कोलंबिया, यमन, पाकिस्तान और वेनेजुएला का नाम आया है। इनके अलावा मिश्र, ग्वाटमाल, अल साल्वाडोर, थाईलैंड, केन्या, लेबनान, इंडिया, फिलीपिंस और जमैक देश भी शामिल हैं। वहीं भारत इस लिस्ट में 13वें नंबर पर है। सुरक्षित देशों की लिस्ट में फिनलैंड सबसे ऊपर है। इसके बाद कतर, संयुक्त अरब अमीरात, आइसलैंड, ऑस्ट्रेलिया, लक्जमबर्ग, न्यूजीलैंड, सिंगापुर, ओमान और पुर्तगाल हैं। रिपोर्ट में ज्यादात्तर सुरक्षित देश यूरोप के हैं। वहीं अरसुरक्षित देशों की लिस्ट में ज्यादात्तर लैटिन अमेरिका, अफ्रीका, एशिया और मिडल ईस्ट के देश हैं।

यहां देखें खबर का विडियो

पाकिस्तान को आतंकवाद पर काबू पाने के लिए कई बार चेताया जा चुका है। संयुक्त राष्ट्र संघ ने भी पाकिस्तान को कई बार आतंक को लेकर चेताया है। दूसरी ओर पाकिस्तान ने भारत में आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए कोशिश की है, ऐसे में भारत ने पाकिस्तान को पूरी दुनिया से अलग-थलग करने की कोशिश की है।

Read Also: भारत पर लगाम लगाने के लिए PAK की चाल, चीन के साथ मिलकर बनाएगा सार्क से बड़ा संगठन

बता दें, नवबंर महीने में पाकिस्तान के इस्लामाबाद में होने वाली सार्क सम्मेलन की बैठक को कैंसिल कर दिया गया। सार्क देशों में नेपाल, श्रीलंका, भारत, अफगानिस्तान, नेपाल, बांग्लादेश ने सार्क सम्मेलन की बैठक में हिस्सा लेने से मना कर दिया था। सार्क देशों ने कहा था कि इस्लामाबाद में सार्क सम्मेलन लायक स्थिति नहीं है। भारत ने सबसे पहले इस्लामाबाद में होने वाले सार्क सम्मेलन में हिस्सा लेने से मना किया था। इसके बाद बाकी देश भारत के साथ आ गए थे। इन देशों ने भी सार्क सम्मेलन में हिस्सा लेने से साफ मना कर दिया था।

Read Also: पाक एक्टिविस्ट आसमा जहांगीर का पुराना वीडियो हुआ वायरल, पाकिस्तानी आर्मी जनरलों को कहा था ‘पॉलिटिकल डफर’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग