ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान ने आतंकवाद पर पर्रिकर के बयान पर जताई चिंता

पाकिस्तान ने रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के बयान पर गंभीर चिंता जताते हुए कहा है कि उनकी टिप्पणी आतंकवाद में भारत की संलिप्तता के बारे में उसके संदेह की पुष्टि करती है। पर्रिकर ने कहा था कि आतंकवादियों...
Author May 24, 2015 15:47 pm

पाकिस्तान ने रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के बयान पर गंभीर चिंता जताते हुए कहा है कि उनकी टिप्पणी आतंकवाद में भारत की संलिप्तता के बारे में उसके संदेह की पुष्टि करती है। पर्रिकर ने कहा था कि आतंकवादियों पर काबू आतंकवादियों द्वारा ही पाया जा सकता है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने पर्रिकर के बयान पर कहा, ‘‘यह बयान पाकिस्तान में आतंकवाद में भारत की संलिप्तता के बारे में पाकिस्तान की आशंका की पुष्टि करता है।’’

विदेश मंत्रालय द्वारा कल जारी एक बयान में अजीज के हवाले से कहा, ‘‘यह कदाचित पहली बार हुआ है कि किसी निर्वाचित सरकार के किसी मंत्री ने दूसरे देश या उसके गैर सरकारी तत्वों से फैलने वाले आतंकवाद को रोकने के बहाने उस देश में आतंकवाद के इस्तेमाल की खुलेआम पैरोकारी की है।’’

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान भारत के साथ अच्छे पड़ोसी की नीति पर ईमानदारीपूर्वक चल रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘आतंकवाद साझा दुश्मन है और इस बुराई को पराजित करने के लिए दोनों देशों के लिए मिलकर काम करना महत्वपूर्ण है, जिससे किसी भी देश से ज्यादा पाकिस्तान प्रभावित हुआ है।’’

बृहस्पतिवार को पर्रिकर ने कहा था कि आतंकवादियों पर काबू आतंकवादियों द्वारा ही पाया जा सकता है। भारत किसी विदेश की सरजमीं से रची गयी साजिश से किये जाने वाले 26/11 के हमले को रोकने के लिए भारत पहले से ही ऐहतियाती कदम उठाएगा।

पर्रिकर ने कहा था, ‘‘निश्चित ही कुछ ऐसी बातें हैं जिनकी मैं यहां चर्चा नहीं कर सकता। लेकिन यदि कोई देश है, केवल पाकिस्तान ही क्यों, जो मेरे देश के विरुद्ध कुछ साजिश रच रहा हो तो हम निश्चित तौर पर कुए ऐहतियाती कदम उठाएंगे।’’

रक्षा मंत्री ने हिंदी मुहावरा ‘कांटे से कांटा निकालना’ का इस्तेमाल किया था और आश्चर्य प्रकट किया था कि क्यों भारतीय सैनिकों को आतंकवादियों का सफाया करने के लिए इस्तेमाल किया जाए।

पहले पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल राहील शरीफ और विदेश सचिव एजाज चौधरी समेत कई वरिष्ठ पाकिस्तानी अधिकारियों ने हाल ही में भारत की खुफिया एजेंसी ‘रॉ’ पर पाकिस्तान में आतंकवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.