ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान ने ब्रिटिश प्रधानमंत्री टरिसा से की भारत की शिकायत, कहा- भारतीय आक्रामक रुख शांति को करेगा प्रभावित

विश्व और हमारे मित्रों को पाकिस्तान के खिलाफ भारत के दुराग्रह से मुकाबले के लिए और अधिक करने की जरूरत है और दक्षिण एशिया को भारत के चश्मे से देखना बंद करना चाहिए।
Author नई दिल्ली | November 17, 2016 05:44 am
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ब्रिटिश पीएम थेरेसा मे इंडिया-यूके टेक समिट के दौरान। PTI Photo by Vijay Verma

पाकिस्तान के गृह मंत्री निसार अली खान ने ब्रिटिश प्रधानमंत्री टरिसा मे से एक मुलाकात के दौरान कहा कि भारत का ‘आक्रामक रुख’ दक्षिण एशिया में शांति को प्रभावित करेगा। ब्रिटेन सरकार के सूत्रों के अनुसार, बुधवार को ब्रिटिश पीएम के निवास 10, डाउनिंग स्टरीट पर खान की ब्रिटेन के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मार्क ल्याल ग्रांट के साथ मुलाकात पहले से निर्धारित थी। उसी दौरान ब्रिटेन की प्रधानमंत्री आ गईं। खान ने कहा, ‘भारत का प्रभुत्ववादी और आक्रामक रुख क्षेत्र की शांति और स्थिरता के लिए खतरा है।’

खान ने कहा, ‘विश्व और हमारे मित्रों को पाकिस्तान के खिलाफ भारत के दुराग्रह से मुकाबले के लिए और अधिक करने की जरूरत है और दक्षिण एशिया को भारत के चश्मे से देखना बंद करना चाहिए।…पाकिस्तान धौंस दिखाने वाले दांवपेच से डरने वाला नहीं है।….हम अपने सैनिकों की निर्मम और बिना उकसावे की हत्या का बदला लेने का अधिकार सुरक्षित रखे हुए हैं।….पाकिस्तान के लोग और उसके सुरक्षा संस्थान अपनी जमीन से आतंकवाद का पूरी तरह से सफाया करने के लिए कटिबद्ध हैं।

मिली जानकारी के अनुसार, मे ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को शुभकामनाएं दीं और पाकिस्तान के मंत्री ने उन्हें प्रधानमंत्री का पदभार संभालने के लिए बधाई दी। पाकिस्तानी मंत्री ने बैठक के बाद पाकिस्तानी मीडिया को बताया कि मे 2017 की पहली छमाही के दौरान पाकिस्तान की यात्रा करने को लेकर ‘इच्छुक’ हैं। उन्होंने जोर देकर कहा कि मे की पाकिस्तान यात्रा दक्षिण एशिया के वर्तमान क्षेत्रीय परिदृश्य के परिप्रेक्ष्य में समयानुकूल होगी और यह द्विवक्षीय एवं बहुपक्षीय सहयोग एवं समन्वय का नया रास्ता खोलेगी।

Speed News: जानिए दिन भर की पांच बड़ी खबरें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग