ताज़ा खबर
 

सिलिकॉन वैली: नरेंद्र मोदी को सुनने के लिए इक्ठ्ठे होंगे 45 हजार से ज्यादा लोग

सिलिकॉन वैली में 27 सितंबर को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन सुनने के लिए 45 हजार से अधिक लोगों ने पंजीकरण कराया है। मोदी सिलिकॉन वैली में भारतीय अमेरिकी समुदाय को संबोधित करेंगे।
Author वाशिंगटन | September 3, 2015 15:53 pm
नरेंद्र मोदी को सुनने के लिए 45 हजार से ज्यादा लोगों ने कराए रजिस्ट्रेशन, सिलिकॉन वैली में गर्जेंगें PM

सिलिकॉन वैली में 27 सितंबर को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन सुनने के लिए 45 हजार से अधिक लोगों ने पंजीकरण कराया है। मोदी सिलिकॉन वैली में भारतीय अमेरिकी समुदाय को संबोधित करेंगे।

इंडो-अमेरिकन कम्युनिटी ऑफ वेस्ट कोस्ट (आईएसीडब्ल्यूसी) ने बुधवार को एक बयान में कहा, ‘अभी उन 18,500 लोगों की अंतिम सूची के संबंध में निर्णय नहीं लिया गया है जिन्हें 27 सितंबर को सैन जोस के सैप एरेना में प्रधानमंत्री मोदी को भाषण देते हुए प्रत्यक्ष रूप से देखने का अवसर मिलेगा।’

आयोजक आगामी दिनों में सभी 45,000 में से कम्प्यूटरीकृत ड्रॉ निकालकर दर्शकों की अंतिम सूची के संबंध में निर्णय लेंगे। इस सूची को तैयार करते समय यह सुनिश्चित किया जाएगा कि सेन जोस के सैप एरेना में मौजूद 18,500 दर्शक समाज के सभी वर्गों, राज्यों, आयु, समुदायों और लिंग का प्रतिनिधित्व करते हों।

आईएसीडब्ल्यूसी (इंडो अमेरिकन कम्युनिटी ऑफ वेस्ट कोस्ट) के सह अध्यक्ष एवं उद्यमी नरेन गुप्ता ने कहा, ‘पंजीकरण कराने वालों की मौजूदा सूची में विभिन्न धर्मों, समुदायों और पेशों के लोग शामिल हैं। टैक्सी चालकों और किसानों से लेकर बड़ी कंपनियों के सीईओ और पेशेवरों तक, सिलिकॉन वैली में जो उत्साह देखा जा रहा है वह अभूतपूर्व है।’

गुप्ता ने कहा, ‘सिलिकॉन वैली नवोन्मेष का केंद्र है, ऐसे में हम प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व के तहत भारत के लिए मौजूद संभावनाओं को लेकर बहुत उत्साहित हैं। उन्होंने डिजिटल शहरों, वैकल्पिक उर्जा और स्वच्छता समेत कई अहम पहलों को रेखांकित किया है।’

उन्होंने कहा, ‘हम हमारी मातृभूमि के लिए कुछ करना चाहते हैं, हम अपनी मातृभूमि के लिए कुछ करेंगे और हम देश के लिए कुछ अच्छा करने के लिए सर्वश्रेष्ठ तरीकों के बारे में प्रधानमंत्री के साथ वार्ता करेंगे।’

मोदी 1978 में मोरारजी देसाई के बाद कैलिफोर्निया आने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं। जवाहर लाल नेहरू पश्चिमी तट की यात्रा करने वाले भारत के पहले प्रधानमंत्री थे।

मीडिया में जारी एक बयान में कहा गया है कि स्वच्छ उर्जा पर मोदी का जोर देना , भारत का डिजिटलीकरण करने की उनकी मुहिम, देश के लोगों को सशक्त बनाने की उनकी योजनाओं के मद्देनजर तकनीक और नवोन्मेष के केंद्र सिलिकॉन वैली में भारत के प्रधानमंत्री की मौजूदगी को कई लोग भारत को समग्र विकास की ओर ले जाने की दिशा में एक सहज कदम करार दे रहे हैं।

बयान में कहा गया है कि स्वागत समारोह के बाद सिलिकॉन वैली और भारत के बीच नवोन्मेष एवं उद्यमिता के साझे विचारों को प्रोत्साहित करने के लिए बैठकें आयोजित की जाएंगी। इस स्वागत समारोह के आयोजन का सारा खर्च भारतीय अमेरिकी समुदाय वहन कर रहा है और आम लोग इस समारोह में बिना कोई फीस दिए, भाग ले सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग