ताज़ा खबर
 

ICBM मिसाइल दाग कर उत्तर कोरिया ने कहा- अमेरिका ‘बास्टर्ड’ के लिए हैं अभी और गिफ्ट

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन ने कहा कि अंतरमहाद्वीपीय मारक क्षमता वाली बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण ‘‘अमेरिकन बास्टर्डस’’ को उनके स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दिया गया एक ‘तोहफा’ है।
Author सोल | July 5, 2017 12:43 pm
उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन ने कहा कि अंतरमहाद्वीपीय मारक क्षमता वाली बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण ‘‘अमेरिकन बास्टर्डस’’ को उनके स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर दिया गया एक ‘तोहफा’ है। प्योंगयांग की आधिकारिक समाचार एजेंसी ‘‘कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी’’ की खबर के अनुसार, नेता किम जोंग-उन ने प्रक्षेपण का निरीक्षण करने के बाद कहा कि ‘‘अमेरिकन बास्टर्डस चार जुलाई को उनके स्वतंत्रता दिवस पर भेजे गए इस तोहफे से ज्यादा खुश नहीं होंगे।’’ जोर जोर से हंसते हुए उन्होंने कहा, ‘‘हमें उनकी उदासी दूर करने के लिए बीच-बीच में तोहफे भेजते रहना चाहिए।

उत्तर कोरिया की अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल ‘‘बड़े, भारी परमाणु आयुध’’ ले जाने में सक्षम है जो पृथ्वी के वायुमंडल में दोबारा दाखिल हो सकती है।
यह बात आज देश की आधिकारिक समाचार एजेंसी ने कही। वाशिंगटन ने कल इस मिसाइल को आईसीबीएम बताया था। वहीं स्वतंत्र विशेषज्ञों ने कहा था कि यह मिसाइल अलास्का तक पहुंच सकती है। ‘द कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी’ (केसीएनए) ने कहा कि नेता किम जोंग-उन ने प्रक्षेपण का निरीक्षण करने के बाद गाली देते हुए कहा कि ‘‘अमेरिकी चार जुलाई को उनके स्वतंत्रता दिवस पर भेजे गए इस तोहफे से ज्यादा खुश नहीं होंगे।’’ केसीएनए के अनुसार, जोर से हंसते हुए उन्होंने कहा, ‘‘हमें उनकी बोरियत दूर करने के लिए बीच-बीच में तोहफा भेजते रहना चाहिए।

किम ने सोंग-14 मिसाइल का निरीक्षण किया था और संतुष्टि जाहिर करते हुए कहा था , ‘‘यह बेहद सुंदर लग रही है और इसे अच्छे से बनाया गया है।’’ प्रायद्वीप युद्ध के वर्ष 1953 में समाप्त होने के साथ ही उत्तर और दक्षिण कोरिया अलग हो गए और इस युद्ध की समाप्ति शांति समझौते की जगह युद्ध विराम के साथ हुई थी। उत्तर कोरिया का कहना है कि उसे आक्रमण के खतरे से स्वयं को बचाने के लिए परमाणु हथियारों की आवश्यकता है।

केसीएनए ने किम के हवाले से कहा कि वांिशगटन के साथ उत्तर कोरिया का टकराव ‘अंतिम चरण’ में पहुंच गया है और अमेरिका की शुत्रतापूर्ण नीति तथा उसकी ओर से परमाणु खतरे के पूरी तरह खत्म होने तक उत्तर कोरिया अपने परमाणु हथियारों तथा बैलिस्टक मिसाइलों को किसी भी सूरत में नहीं त्यागेगा। दक्षिण के संयुक्त चीफ्स आॅफ स्टाफ ने ‘‘चेतावनी के एक मजबूत संदेश के रूप में’’ कहा कि इसके (मिसाइल प्रक्षेपण) के जवाब में अमेरिकी और दक्षिण कोरियाई सैनिकों ने आज समानांतर रूप से कई मिसाइल दागकर अभ्यास किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग