ताज़ा खबर
 

उत्तर कोरिया के डिप्टी PM किम योंग जिन को बैठक में सोना पड़ा महंगा, मिल गई मौत की सजा

उत्तर कोरिया ने अपने उप प्रधानमंत्री को बैठक के दौरान असम्मान दिखाने के लिए मौत की सजा दी है। बैठक की अध्यक्षता किम जोंग उन कर रहे थे।
Author सोल | August 31, 2016 16:26 pm
उत्तर कोरिया के शिक्षा विभाग के उप प्रधानमंत्री किम योंग जिन

उत्तर कोरिया ने अपने उप प्रधानमंत्री को बैठक के दौरान असम्मान दिखाने के लिए मौत की सजा दी है। बैठक की अध्यक्षता किम जोंग उन कर रहे थे। यह जानकारी आज दक्षिण कोरिया ने दी। खबर है कि बैठक में उप प्रधानमंत्री सो गए थे। सोल ने बताया कि सरकार ने दो अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को निर्वासित कर दिया है। समझा जाता है कि किम द्वारा दी गई सजा की यह नवीनतम घटना है और विशेषज्ञों का कहना है कि सत्ता में अपनी पकड़ मजबूत करने के लिए तानाशाह ने ऐसा किया है।

सोल की यूनिफिकेशन मिनिस्ट्री के प्रवक्ता जोंग जून ही ने एक नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘शिक्षा विभाग के उप प्रधानमंत्री किम योंग जिन को मौत की सजा दी गई। मंत्रालय के एक अधिकारी ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि किम को जुलाई में ‘‘पार्टी विरोधी’’ बताकर गोलियों से उड़ा दिया गया।

अधिकारी ने संवाददाताओं से कहा कि उत्तर कोरिया की संसद के एक सत्र के दौरान, ‘‘किम योंग जिन के बैठने का ढंग ठीक नहीं होने’’ के कारण उनकी निंदा की गई और फिर उनसे पूछताछ हुई जिसमें अन्य ‘‘अपराधों’’ का पता चला। सबसे ज्यादा बिकने वाले अखबार जूंग एंग इलबो ने मंगलवार को खबर दी कि सत्ता के कुछ शीर्ष लोगों को दंडित किया गया है लेकिन शिक्षा अधिकारी का कुछ और नाम बताया गया।
अखबार ने एक स्रोत के हवाले से लिखा, ‘‘किम की अध्यक्षता वाली एक बैठक के दौरान नींद आने से उन्हें किम के गुस्से का शिकार होना पड़ा।

इसने कहा, ‘‘उन्हें वहीं पर गिरफ्तार कर लिया गया और सुरक्षा मंत्रालय ने उनसे गहन पूछताछ की। यूनिफिकेशन मंत्रालय ने कहा कि दो अन्य वरिष्ठ हस्तियों को फिर से शिक्षा सत्र में शामिल होने के लिए जबरन भेज दिया गया। इनमें एक का नाम किम योंग चोल है जो अंतर कोरियाई मामलों का शीर्ष अधिकारी है और दक्षिण कोरिया के खिलाफ जासूसी गतिविधियों में संलिप्त रहा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग