ताज़ा खबर
 

उत्तर कोरिया ने फिर किया मिसाइल परीक्षण, रुस ने दिया साथ

यह परीक्षण कोरियाई प्रायद्वीप में भारी तनाव और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड की ‘भीषण संघर्ष’ की चेतावनी के बीच हुआ है।
Author April 29, 2017 10:35 am
उत्‍तरी कोरिया ने हाल ही में कई मिसाइलों का परीक्षण किया है। (Reuters File Photo)

लगातार मिसाइल परीक्षण करके कड़े अमेरिकी प्रतिबंध के खतरों का सामना कर रहे उत्तर कोरिया ने आज फिर मिसाइल परीक्षण किया। हालांकि, माना जा रहा है कि यह परीक्षण नाकाम रहा है। दक्षिण कोरिया की संवाद समिति योन्हाप ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि उत्तर कोरिया ने दक्षिण प्योंगयाग प्रांत के बुकचांग क्षेत्र से एक आज तड़के अज्ञात मिसाइल का परीक्षण किया। हालांकि माना जा रहा है कि यह परीक्षण नाकाम रहा है।

अमेरिका के रक्षा मंत्रालय के अधिकारियों ने भी मिसाइल परीक्षण की पुष्टि की है। यह परीक्षण कोरियाई प्रायद्वीप में भारी तनाव और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड की ‘भीषण संघर्ष’ की चेतावनी के बीच हुआ है। साथ ही यह परीक्षण अमेरिका के विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन के पहली बार संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद को संबोधित करने के कुछ ही घंटों के बाद हुआ है जिसमें उन्होंने प्योंगयान पर दबाव बनाने के लिए चीन की अहम भूमिका के साथ वैश्विक अभियान की मांग की थी।

टिलरसन ने वाशिंगटन की चेतावनी दोहराई कि अमेरिकी सेना के सामने कई विकल्प हैं। उन्होंने यह भी कहा कि चीन का अपने साम्यववादी सहयोगी और पड़ोसी पर खासा प्रभाव है। दूसरी ओर, चीन ने इस तथ्य को खारिज करते हुए कहा कि एक ही देश से संघर्ष का समधान निकालने की अपेक्षा करना अव्यवहारिक है। चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने सुरक्षा परिषद में कहा ‘‘बल प्रयोग से मतभेद दूर नहीं होंगे और समस्या बढ़ेगी।’’

रूस ने चीन का साथ देते हुए कहा कि सैन्य प्रतिक्रिया सही नहीं होगी। साथ ही रूस ने बातचीत करने और तनाव कम करने का आग्रह भी किया।

बता दें कि उत्तर कोरिया की सैन्य गतिविधियां बढ़ने को लेकर बुधवार को अमेरिका ने कहा था कि उसकी योजना दक्षिण कोरिया में ‘कुछ दिनों में’ मिसाइल रक्षा प्रणाली सक्रिय करने की और उत्तर कोरिया के खिलाफ आर्थिक प्रतिबंधों का दायरा और कड़ा करने की है। अमेरिकी प्रशांत कमांड के कमांडर एडमिरल हैरी हैरिस ने अमेरिकी कांग्रेस के सदस्यों से कहा कि ‘टर्मिनल हाई एलटीट्यूड एरिया डिफेंस (थाड) का संचालन आने वाले दिनों में शुरू हो जाएगा और यह उत्तर कोरिया के बढ़ते खतरे से दक्षिण कोरिया का बचाव करने में सक्षम होगा। वहीं उत्तर कोरिया ने ज्यादा मिसाइल और परमाणु परीक्षण करने की बात कही।

देखिए वीडियो - पाकिस्तान के साथ मिलकर बैलिस्टिक मिसाइल्स, एयरक्राफ्ट्स बनाएगा चीन

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग