ताज़ा खबर
 

चीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग की एक्‍स गर्लफ्रेंड के चक्‍कर में हो गए पांच अपहरण!

स्‍काई न्‍यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, लापता शख्‍स जिस पब्लिशिंग हाउस में काम करता था, वह चीन सरकार का मुखर आलोचक रहा है। पब्लिशिंग हाउस जल्‍द ही एक किताब प्रकाशित करने जा रहा था, जिसमें चीनी राष्‍ट्रपति की एक्‍स गर्लफ्रेंड के बारे में बताया गया है।
Author हांगकांग | January 3, 2016 17:53 pm
कथित तौर पर किडनैप किए गए लोगों की तस्‍वीरें लेकर चीन सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते लोग।

हांगकांग के एक मशहूर पब्लिशिंग हाउस का कर्मचारी ली बो पिछले कई दिनों से लापता है। स्‍काई न्‍यूज ने एएफपी के हवाले से जानकारी दी है कि लापता शख्‍स जिस पब्लिशिंग हाउस में काम करता था, वह चीन सरकार का मुखर आलोचक रहा है। पब्लिशिंग हाउस जल्‍द ही एक किताब प्रकाशित करने जा रहा था, जिसमें चीनी राष्‍ट्रपति की एक्‍स गर्लफ्रेंड के बारे में बताया गया है। आरोप है कि ली बो को इसह वजह से किडनैप कर लिया गया है और यह काम किसी और ने नहीं, बल्कि चीन के खुफिया एजेंटों ने किया है। रिपोर्ट में हांगकांग के एक जनप्रतिनिधि के हवाले से यह बात कही गई है।

जानकारी के मुताबिक, हांगकांग पुलिस ली बो के अलावा चार अन्‍य लोगों की भी तलाश में जुटी है। इनमें तीन हांगकांग के ही हैं, जबकि एक स्‍वीडिश नागरिक है। कॉज-वे में पब्लिशिंग हाउस की बुकशॉप के कस्‍टर अल्‍बर्ट हू ने न्‍यूज कॉन्‍फ्रेंस में दावा किया कि ली बो का अपहरण राजनीतिक कारणों से किया गया है और इस समय वह चीन में है। अल्‍बर्ट ने दावा किया कि जिस किताब का जिक्र किया जा रहा है, उसमें चीन के राष्‍ट्रपति की गर्लफ्रेंड का जिक्र है। उसने बताया कि पब्लिशिंग हाउस को यह किताब लॉन्‍च नहीं करने की धमकी भी दी गई थी। हालांकि, किताब अभी तक प्रिटिंग के लिए नहीं गई है, लेकिन इसका अपहरण के इन मामलों से कुछ तो लेना-देना है।

दूसरी ओर ली बो की पत्‍नी ने बताया कि फोन पर उन्‍होंने बताया था कि वह जांच में सहयोग कर रहे हैं। उन्‍होंने यह भी जानकारी दी है कि वह फोन कॉल चीनी शहर शेंझान से आया था।

Read Also:

PHOTOS: चीन ने बनाईं तीन नई आर्मी यूनिट, रॉकेट फोर्स को सौंपे परमाणु हथियार

चीन ने फ्रांसीसी पत्रकार को मान्यता देने से किया इनकार

चीनी प्रकाशक ने टैगोर की रचना के अश्लील अनुवाद को वापस लिया

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग