ताज़ा खबर
 

म्यांमार: तीन मुसलमानों पर 90 गायों की तस्करी के लिए चलेगा मुकदमा

पुलिस ने पिछले महीने एक स्थानीय बौद्ध भिक्षु की शिकायत पर देश में गैर-कानूनी तौर पर लाई गई 92 गायों को जब्त किया था।
प्रतीकात्मक तस्वीर

म्यांमार में तीन मुसलमानों पर सोमवार को पिछले महीने बकरीद के मौके पर 90 से अधिक गायों की तस्करी को लेकर मुकदमा दायर किया गया। यहां के मुस्लिम नेताओं ने कहा है कि उनके धर्म को जानबूझकर निशाना बनाया जा रहा है। सभी आरोपी अदालत में अगली सुनवाई तक पुलिस हिरासत में रहेंगे। पुलिस मामले में 30 अन्य लोगों की तलाश कर रही है। म्यांमार में कई बौद्ध नेता बकरीद पर जानवरों की कुर्बानी देने का विरोध करते रहे हैं। कई बौद्ध नेता इसे रोकने के लिए सार्वजनिक प्रदर्शन करते रहे हैं। पुलिस ने पिछले महीने एक स्थानीय बौद्ध भिक्षु की शिकायत पर देश में गैर-कानूनी तौर पर लाई गई 92 गायों को जब्त किया था। सभी गायों को म्यांमार के सबसे बड़े शहर यंगून में एक फुटबॉल मैदान में रखा गया है। समाचार एजेंसी एएफपी के अनुसार इनमें से दो गायों की मौत हो चुकी है।  सोशल मीडिया पर इस पर काफी टिप्पणी की जा रही है।

आरोपी म्यो मिंत के बेटे ये जारनी तुन वे ने कहा कि उनके पास “गाय खरीदने के दस्तावेज हैं।”  आरोपियों का बचाव करते हुए स्थानीय मुस्लिम समूह उलेमा इस्लाम के नेता क्याव निएन ने समाचार एजेंसी एएफपी से कहा, “उन्होंने गैर-कानूनी काम नहीं किया है। मुझे नहीं पता उन्होंने तकनीकी तौर पर कानून तोड़ा है या नहीं लेकिन मेरे ख्याल से ये मामला धर्म से जुड़ा हुआ है।”

वीडियो:  देखें देश-दुनिया की खास खबरें-

रविवार को तीन सीमावर्ती चौकियों पर हुए हमलों में नौ पुलिस अफसरों की मौत हो गई थी। स्थानीय अधिकारियों के अनुसार ये हमले रोहिंग्या मुसलमानों ने किए थे। म्यांमार के रखाइन प्रांत में साल 2012 में बौद्धों और रोहिंगया मुसलमानों के बीच हुई हिंसा के बाद से दोनों संप्रदायों के बीच तनाव रहा है। म्यांमार का मुस्लिम समुदाय देश में दोयम दर्जे का नागरिक समझे जाने का आरोप लगाता रहा है। विरथू नामक बौद्ध भिक्षु के नेतृत्व में रोहिंग्या मुसलमानों के खिलाफ कई उग्र प्रदर्शन ( मा बा था) हुए थे। हालांकि इस साल नोबेल शांति पुरस्कार विजेता आंग सान सू की पार्टी ने इस साल मार्च में देश में हुए चुनाव में बहुमत हासिल किया जिसके बाद मा बा था का प्रभाव घटा है।

अखलाक़ का क़त्ल: एक साल में कोर्ट से मिलीं 18 तारीखें, केवल 5 पर हुई सुनवाई, जानिए हर डेट पर हुई कोर्ट कार्रवाई का ब्योरा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 11, 2016 11:28 am

  1. No Comments.
सबरंग