ताज़ा खबर
 

रेमन मैगसायसाय अवॉर्ड 2016 पाने वालों में दो भारतीय शामिल

मैला ढोने की प्रथा के उन्मूलन के लिए मुहिम चलाने वाले बेजवाड़ा विल्सन और चेन्नई के गायक टी एम कृष्णा को रेमन मैगसायसाय पुरस्कार के लिए बुधवार को चुना गया।
Author मनीला | July 27, 2016 15:54 pm
चेन्नई के गायक टी एम कृष्णा। ( Express Photo)

भारत में मैला ढोने की प्रथा के उन्मूलन के लिए एक प्रभावशाली मुहिम चलाने वाले एवं कर्नाटक में जन्मे बेजवाड़ा विल्सन और चेन्नई के गायक टी एम कृष्णा को वर्ष 2016 के लिए प्रतिष्ठित रेमन मैगसायसाय पुरस्कार के लिए बुधवार को चुना गया। इस पुरस्कार के लिए दो भारतीयों के अलावा चार अन्य को चुना गया है जिनमें फिलीपीन के कोंचिता कार्पियो-मोरैल्स, इंडोनेशिया के डोंपेट डुआफा, जापान ओवरसीज कोआॅपरेशन वालंटियर एवं लाओस के ‘‘वियंतीएन रेसेक्यू’ शामिल हैं।

सफाई कर्मचारी आंदोलन :एसकेए: के राष्ट्रीय संयोजक विल्सन को ‘‘मानवीय गरिमा के साथ जीवन जीने के अधिकार की दृढतापूर्वक बात करने के कारण’’ पुरस्कार के लिए नामित किया गया है और कृष्णा को ‘‘संस्कृति में सामाजिक समावेशिता’’ लाने के लिए ‘‘एमरजेंट लीडरशिप’’ श्रेणी के तहत पुरस्कार के लिए चुना गया है। विल्सन के उद्धरण में कहा गया है, ‘‘मैला ढोना भारत में मानवीयता पर कलंक है। मैला ढोना शुष्क शौचालयों से मानव के मलमूत्र को हाथ से उठाने और उस मलमूत्र की टोकरियों को सिर पर रखकर निर्धारित निपटान स्थलों पर ले जाने का काम है जो भारत के ‘‘अस्पृश्य ’’, दलित उनके साथ होने वाली संरचनात्मक असमानता के मद्देनजर करते हैं।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.