ताज़ा खबर
 

26/11 मुंबई हमला: पाकिस्तानी आयोग ने आतंकियों द्वारा इस्तेमाल नौका अल-फौज को जांचा

भारत पहुंचने के लिए लश्कर-ए-तैयबा के 10 आतंकवादियों ने नौका अल-फौज का इस्तेमाल किया था।
Author कराची | October 6, 2016 20:51 pm
मुंबई हमले (26/11) के दौरान होटल ताज। इस हमले में 166 लोग मारे गए थे। (फाइल फोटो)

पाकिस्तान की एक आतंकवाद निरोधक अदालत की ओर से गठित एक न्यायिक आयोग ने 26/11 के मुंबई हमले को अंजाम देने के मकसद से भारत पहुंचने के लिए लश्कर-ए-तैयबा के 10 आतंकवादियों की ओर से इस्तेमाल में लाई गई नौका का गुरुवार (6 अक्टूबर) को निरीक्षण किया और एक जांच अधिकारी के बयान दर्ज किए। एक अधिकारी ने बताया, ‘एक पाकिस्तानी आयोग, जिसमें अभियोजन और बचाव पक्ष के वकील शामिल हैं, ने गुरुवार को कराची में एक सुनवाई अदालत के जज की मौजूदगी में अल-फौज नौका (जिसे मुंबई हमले में आतंकवादियों की ओर से इस्तेमाल किया गया था) का निरीक्षण किया।’ उन्होंने कहा कि आयोग ने संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) के उस अधिकारी का भी बयान दर्ज किया जिसने अल-फौज के बारे में सबूत इकट्ठे किए थे।

अधिकारी ने कहा, ‘आयोग ने एफआईए के आधिकारिक बयान और प्राप्त किए गए साक्ष्य दर्ज किए।’  उन्होंने कहा, ‘अब नौका का निरीक्षण नहीं किया जाएगा क्योंकि आयोग 19 अक्तूबर को सुनवाई अदालत की अगली सुनवाई के दौरान अपनी रिपोर्ट पेश करेगा।’ इस्लामाबाद की आतंकवाद निरोधक अदालत (एटीसी) की ओर से मुंबई आतंकवादी हमले के मामले की सुनवाई के दौरान आयोग का गठन किया गया था। अदालत ने पिछले महीने रावलपिंडी की अदियाला जेल में सुनवाई की थी और उस वक्त यह बात पता चली कि अल-फौज नाम की नौका का इस्तेमाल आतंकवादियों ने हमले में किया था। मुंबई हमले में 166 लोग मारे गए थे। एटीसी के जज ने एफआईए के इस अनुरोध को स्वीकार किया था कि एक न्यायिक आयोग नौका का निरीक्षण करे क्योंकि अदालत के सामने नौका को पेश करना मुश्किल है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग