ताज़ा खबर
 

आधुनिक सोयूज यान में तीन अंतरिक्ष यात्री आईएसएस के लिए रवाना

आईएसएस अंतरिक्ष वेधशाला वर्ष 1998 से लगभग 28 हजार किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से पृथ्वी के चक्कर लगा रही है।
Author बैकनूर (कजाखस्तान) | July 7, 2016 10:17 am
रूस के बैकनूर कोस्मोड्रोम से रवाना होता सोयूज यान। (AP Photo/Dmitri Lovetsky)

रूस के बैकनूर कोस्मोड्रोम से गुरुवार (7 जुलाई) को तीन अंतरिक्ष यात्री आधुनिक सोयूज अंतरिक्षयान में सवार होकर अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (आईएसएस) के लिए रवाना हो गए। नासा की कैथलीन रूबिंस और जैपनीज स्पेस एजेंसी के ताकुया ओनिशी पहली बार अंतरिक्ष यात्री बने हैं। इन दोनों ने दो बार अंतरिक्ष की यात्रा कर चुके रूसी अंतरिक्षयात्री एंटोली इवानिशिन के साथ आईएसएस पर चार माह तक चलने वाला अभियान शुरू किया। इस अभियान की शुरुआत अंतरराष्ट्रीय समयानुसार रात एक बजकर 36 मिनट पर हुई।

कजाखस्तान में प्रक्षेपण की फुटेज का प्रसारण करने वाले नासा टीवी के एक कमेंटेटर ने कहा, ‘और लिफ्ट-ऑफ (यान का उड़ना) हो गया।’ यह प्रक्षेपण दो सप्ताह देर से हुआ है क्योंकि रूसी अंतरिक्ष अधिकारियों को संशोधित यान में कुछ सॉफ्टवेयर परीक्षण और करने थे।

नासा की रूबिंस इतालवी अंतरिक्ष यात्री समांथा क्रिस्टोफोरेटी के पृथ्वी पर लौट आने के बाद आईएसएस पर जाने वाली पहली महिला होंगी। समांथा किसी महिला द्वारा सबसे लंबी अंतरिक्षीय उड़ान (199 दिन) का रिकॉर्ड कायम करके पिछले साल जून में लौट आई थीं। आईएसएस अंतरिक्ष वेधशाला वर्ष 1998 से लगभग 28 हजार किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से पृथ्वी के चक्कर लगा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.