ताज़ा खबर
 

मदीना सउदी अरब आतंकी हमले में 19 गिरफ्तार, 12 पाकिस्तानी नागरिक

मदीना में मस्जिद-ए-नबवी के निकट हुए विस्फोट में चार लोग मारे गए थे।
Author रियाद | July 8, 2016 16:57 pm
सउदी अरब के मदीना स्थित पैगंबर मोहम्मद साहब की मस्जिद में इबादत के लिए श्रद्धालु। (एपी/पीटीआई फाइल फोटो)

सफदी अरब में सोमवार (4 जुलाई) को हुए आत्मघाती हमलों के संबंध में 12 पाकिस्तानी नागरिकों समेत 19 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें से एक हमला मदीना शहर में इस्लाम के दूसरे सबसे पवित्र स्थल के निकट हुआ था। सउदी अरब के गृह मंत्रालय ने यह जानकारी दी। ऐसा माना जा रहा है कि मदीना के कातिफ में एक शिया मस्जिद और पश्चिमी जेद्दा में हुए तीन अलग अलग हमलों में सात लोगों की मौत हुई है और दो अन्य लोग घायल हुए है।

आधिकारिक एसपीए संवाद समिति की ओर से प्रकाशित मंत्रालय के गुरुवार (7 जुलाई) को जारी एक बयान में बताया गया कि 26 वर्षीय सउदी नागरिक नाएर मुस्लिम हम्माद अल बलावी की पहचान मदीना हमले के षड्यंत्रकारी के रूप में की गई है। उसका ‘नशीले पदार्थों के इस्तेमाल का इतिहास’ रहा है। इसमें बताया गया है कि कातिफ पर तीन आतंकवादियों ने हमला किया। इनमें से एक आतंकवादी का नाम अब्दुररहमान सालेह मोहम्मद अल अम्र (23) है। सुरक्षा सेवाएं उसे विरोध प्रदर्शनों में हिस्सा लेने वाले के तौर पर जानती हैं।

पूर्व में मंत्रालय ने बताया था कि जेद्दा पर हमला करने वाला एक पाकिस्तानी व्यक्ति था जिसकी पहचान एक चालक अब्दुल्ला कलजार खान के रूप में की गई है जो पिछले 12 वर्षों से शहर में रह रहा था। मदीना में मस्जिद-ए-नबवी के निकट हुए विस्फोट में चार लोग मारे गए थे। मंत्रालय ने पूर्व में बताया था कि शिया बहुल कातिफ में एक अन्य आत्मघाती हमले के बाद तीन लोगों के अंग मिले थे। जेद्दा हमले में दो पुलिस अधिकारी घायल हो गए थे। सोमवार (4 जुलाई) को हुए हमलों की जिम्मेदारी अभी तक किसी ने नहीं ली है।

सउदी अरब में वर्ष 2014 के बाद से आइएस समूह के हमलों में अल्पसंख्यक शिया समुदाय एवं सुरक्षा बलों को निशाना बनाया गया है। आईएस के नेता अबु बकर अल बगदादी ने सउदी अरब के खिलाफ हमले करने का आह्वान किया था। सउदी अरब सीरिया एवं इराक में जिहादियों पर हमला करने वाले अमेरिका के नेतृत्व वाले गठबंधन का हिस्सा है। आईएस शिया समुदाय के लोगों को धर्म विरोधी मानता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग