ताज़ा खबर
 

पाकिस्तान बोला, कश्मीरी लड़के की मौत ‘राज्य प्रायोजित आतंकवाद’ का नतीजा

कश्मीर में विरोध प्रदर्शन के दौरान पैलेट गन से घायल हुए जुनैद की बीते शुक्रवार (7 अक्टूबर) को मौत हो गई जिसके साथ ही घाटी की अशांति में मरने वालों की संख्या 84 हो गई।
Author इस्लामाबाद | October 9, 2016 19:41 pm
पैलेट गन से घायल होने के बाद शनिवार (8 अक्टूबर) को कश्मीरी लड़के की मौत हो गई। उसके शरीर के पास जमा मुस्लिम लोग कश्मीर की आजादी के समर्थन में नारे लगाते हुए।(AP Photo/Dar Yasin/8 Oct, 2016)

कश्मीर में अशांति को लेकर भारत पर निशाना साधते हुए पाकिस्तान ने रविवार (9 अक्टूबर) को कहा कि पेलेट गन से घायल हुए 12 साल के कश्मीरी लड़के की मौत ‘राज्य प्रायोजित आतंकवाद का सबसे खराब उदाहरण’ है। जुनैद अहमद की मौत पर दुख प्रकट करते हुए पाकिस्तानी विदेश विभाग ने दावा किया कि यह घटना कश्मीर में ‘निरंतर चल रहे भारतीय अत्याचारों’ का हिस्सा है। उसने एक बयान में कहा, ‘यह निर्मम हत्या भारत सरकार के राज्य प्रायोजित आतंकवाद का सबसे खराब उदाहरण है और निश्चित तौर पर निंदनीय भी है।’ विदेश विभाग ने कहा, ‘पाकिस्तान की सरकार और लोग जुनैद की मौत पर उसके परिवार के प्रति अपनी गहरी संवेदना प्रकट करते हैं।’

उसने कहा कि कश्मीर के लोग अपने बुनियादी मानवाधिकारों खासकर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के अनुसार आत्मनिर्णय के अधिकार की मांग कर रहे हैं। विदेश विभाग ने कहा, ‘कश्मीर में मानवाधिकारों के गंभीर हालात, कश्मीरियों पर बढ़ रहे अत्याचार और जनसंहार अंतरराष्ट्रीय और संयुक्त राष्ट्र के लिए चिंता का विषय होने चाहिए तथा भारत द्वारा किए जा रहे रक्तपात को रोकने के लिए तत्काल दखल की जरूरत है।’ कश्मीर में विरोध प्रदर्शन के दौरान पैलेट गन से घायल हुए जुनैद की बीते शुक्रवार (7 अक्टूबर) को मौत हो गई जिसके साथ ही घाटी की अशांति में मरने वालों की संख्या 84 हो गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग